HomeझारखंडJharkhand Live News - बीसीसीएल की खदान में आग और गैस का...

Jharkhand Live News – बीसीसीएल की खदान में आग और गैस का विस्फोट, काले धुएं से भरा आसमान

बीसीसीएल लोदना क्षेत्र की एनटी-एसटी विभागीय ओसीपी पैच (खदान) में मंगलवार को विस्फोट के साथ गैस रिसाव शुरू हो गया। घटना मंगलवार की दोपहर करीब तीन बजे की है। विस्फोट की आवाज इतनी तेज थी कि लोग डर गए। देखते-देखते पूरे इलाका काले धुएं से भर गया। गैस के बाद आग की लपटें भी दिखीं। 

भूमिगत आग प्रभावित इस प्रोजेक्ट में किसी को कोई नुकसान तो नहीं हुआ लेकिन दमघोंटू गैस से अफरातफरी की स्थिति उत्पन्न हो गई। पूरा परियोजना क्षेत्र धुआं-धुआं हो गया है। कुछ दूरी पर काम करनेवाले मजदूरों में दहशत का माहौल हो गया। प्रबंधन ने कार्य को ठप करा दिया है। यहां पर कोयला उत्पादन का कार्य होता था। बताया गया कि बुधवार की सुबह से गैस रिसाव हो रहा था। इसकी जानकारी कर्मियों ने क्षेत्र के महाप्रबंधक गोपाल दास निगम और अपर महाप्रबंधक पीके मिश्रा को दी। खबर पाकर अधिकारी पहुंचे मुआयना करने के बाद चले गए। इसके बाद तीन बजे जोरदार आवाज के साथ विस्फोट हुआ। गैस के साथ आग की लपटें निकलने लगीं। अफरातफरी मच गई। 

बताते हैं कि कंबाइंड सिम में आग है। तीन सिम की गैलरी में आग लगी हुई है। कोयला जल रहा है और वही विस्फोट हुआ है। प्रबंधन की ओर से आग को काबू पाने की दिशा में प्रयास शुरू किया गया है लेकिन आग की भयावहता के कारण अभी केवल मंथन चल रहा है। प्रबंधन के अनुसार बहुत कम कोयला था। बावजूद आग अधिक लग गई है। उस पर काबू पाने का प्रयास किया जा रहा है।

अब दूसरी जगह पर उत्पादन का कार्य किया जा रहा है। ओबी का काम भी होगा। पीओ पंकज कुमार ने बताया कि प्रयास किया जा रहा है कि बोर होल कर आग पर काबू पाया जाय। वैसे ज्यादा कोयला नहीं है। फिर भी कोयला बचाने का दायित्व है। यह पूरा क्षेत्र फायर एरिया है। इस तरह की घटना होना स्वभाविक है। घटना में जानमाल की क्षति नहीं हुई है। प्रबंधन पहले से ही सतर्क था।

लोगों की मांग: परियोजना के समीप विद्युत सब स्टेशन, हाजिरी घर, ड्रग लाइन मशीन, डंपर एवं मशीनें खड़ी हैं। आठ दस घरों में विस्थापित भी रहते हैं। बिहार कोलियरी कामगार यूनियन एवं मासस नेता कांता पासवान ने कहा कि गैलरी पूरी तरह से आग और गैस से भर चुकी है। परियोजना का काम प्रबंधन को रोक देना चाहिए। बचाव कार्य करना चाहिए। धुआं से लोग परेशान हैं।

Most Popular