450 करोड़ की लागत से झारखंड के कई जिलों की सड़कें होंगी चमाचम, देखिये किन जिलों को मिलेगा फ़ायदा

झारखंड कैबिनेट ने राज्य के विभिन्न जिलों में हाइवे प्रोजेक्ट के तहत 450 करोड़ रुपये की मंजूरी दी है. गुरुवार को हुई कैबिनेट की बैठक में इस प्रस्ताव समेत कुल 27 प्रस्तावों पर मुहर लगायी गयी है. हाइवे प्रोजेक्ट के लिए 450 करोड़ की स्वीकृति के बाद राज्य के कई जिलों की सड़कें चकाचक हाेंगी.

झारखंड कैबिनेट की बिफ्रिंग करते हुए बताया गया कि इन परियोजनाओं में से अधिकांश को ग्रामीण निर्माण विभाग से पथ निर्माण विभाग को स्थानांतरित कर दिया गया था. इसके तहत जामताड़ा जिले में जहां 63.75 करोड़ रुपये की परियोजना है, वहीं पलामू जिले के लिए 88.46 करोड़ रुपये की अन्य परियोजना को मंजूरी दी गयी है.

इसके अलावा रांची, लातेहार, चतरा, पाकुड़, दुमका और जामताड़ा जिलों के लिए अन्य परियोजनाओं को भी मंजूरी दी गयी है. इसके तहत रांची जिला के बोड़ा खुकड़ा मांगर से टांगर बसली पथ पर 15 किलोमीटर से अधिक कुरकुरा मार्ग को पथ निर्माण विभाग की ओर से 35 करोड़ 15 लाख रुपये खर्च नये सिरे से बनाया जायेगा.

जामताड़ा जिले के नाला से चिलपाड़ा मोड़ तक करीब 21 किलोमीटर अफजलपुर मार्ग को 63 करोड़ 75 लाख 77 हजार रुपये की राशि खर्च कर बनाने की मंजूरी दी गयी है. वहीं, जिले के जुमनमोड़ स्थित एडीबी रोड पर लुधरिया मोड़ तक 12 किलोमीटर की सड़क को नये सिरे से 39 करोड़ 92 लाख रुपये से बनाये जायेंगे.

पलामू जिला के सलटुआ मोड़ लोहारसेवी रामकंडा के 21.11 किलोमीटर सड़क को नये सिरे से 88 करोड़ 46 लाख से अधिक खर्च बनाया जायेगा. चतरा से गुजरने वाली NH 100 पुलिस लाइन से नवाडीह सड़क जिसकी लंबाई 17.06 किलोमीटर है, इसे बनाने में 38 करोड़ 91 लाख रुपये खर्च होंगे.

पाकुड़ जिला के सिंभूर राधानगर नरहटी होते हुए जाने वाली 23.04 किलोमीटर तक की सड़क के निर्माण के लिए 78 करोड़ 5 लाख रुपये खर्च होंगे. वहीं, इस जिला के राजदाहा फुल गिझरी पथ के 11.26 किलोमीटर की सड़क को नये सिरे से बनाने के लिए 41 करोड़ 64 लाख रुपये खर्च किये जायेंगे.