2023 तक बनकर तैयार हो जाएगा एनआईटी पटना का नया कैंपस, जानिए किस जगह पर कितने एकड़ में हो रहा है तैयार

राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान (एनआईटी) पटना के नए कैंपस के निर्माण की प्रक्रिया जल्द ही शुरू होगी। जानकारी के अनुसार यह कैंपस अगले 2 साल में बनकर तैयार हो जाएगा। इसकी प्रक्रिया पूरी हो गई है।एनआईटी के नए कैंपस बनाने के लिए शिक्षा मंत्रालय की ओर से 500 करोड़ रुपए जारी कर दिया गया है।

बता दें कि नया कैंपस पटना के बिहटा में बनने वाला है।

इसके लिए डीपीआर व डिजाइन एनआईटी पटना के ही विभिन्न विभाग के शिक्षक मिलकर तैयार कर रहे हैं।

जल्द ही इसकी टेंडर प्रक्रिया भी शुरू कर दी जाएगी।

जानकारी के अनुसार नए कैंपस में कुल 4000 छात्रों की पढ़ाई करने की व्यवस्था होगी। इसकी जानकारी बुधवार को एनआईटी के निदेशक प्रोफेसर पीके जैन ने प्रेस कांफ्रेंस में दी। उन्होंने बताया कि एनआईटी का यह नया कैंपस आईआईटी पटना से 2 किलोमीटर दूर होगा। इसके लिए राज्य सरकार की ओर से 125 एकड़ की भूमि आवंटित कर दी गई है। बिहटा कैंपस का विस्तार तीन चरण में होना है।

हालांकि एनआईटी पटना का वर्तमान कैंपस मभी एनआईटी के जिम्मे ही रहेगा। और यहां पर सिविल व आर्किटेक्चर डिपार्टमेंट संचालित होता रहेगा। इसके अलावा बीटेक फर्स्ट ईयर के छात्रों की भी क्लास यहीं पर चलेगी बाकी सारे डिपार्टमेंट बिहटा कैंपस में शिफ्ट हो जाएगा। वर्तमान कैंपस में 2200 स्टूडेंट्स और दो डिपार्टमेंट रह जाएंगे।

बता दें कि एनआईटी एनआईआरएफ की रैंकिंग में लगातार बेहतर प्रदर्शन कर रहा है। यहां वर्ष 2019 में इंजीनियरिंग संस्थानों में इसकी रैंकिंग 134वें थी वहीं 2020 में 92वें और इस साल 72वें स्थान पर पहुंच गया। प्रोफेसर पीके जैन ने बताया कि हमारा लक्ष्य है कि इसे टॉप 50 में पहुंचाया। वहीं आईटी पटना 2021-22 सत्र से मास्टर इन कंप्यूटर एप्लीकेशन (एमसीए) कोर्स भी शुरू करने जा रहा है