हेमंत सरकार ने सलीमा टेटे और निक्की प्रधान को 50-50 लाख रूपये देनें की घोषणा की है

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा टोक्यो ओलिंपिक में भारतीय महिला हॉकी टीम को भले ही कांस्य पदक भी नहीं मिल सका, लेकिन सभी बहनों ने कांस्य पदक के मैच में पिछले ओलिंपिक की स्वर्ण पदक विजेता ग्रेट ब्रिटेन की टीम को जिस प्रकार टक्कर दी, वह काबिले तारीफ है। मैं पूरी भारतीय महिला हॉकी टीम को सलाम करता हूं। झारखंड की बेटियों और मेरी बहनों ने भारतीय महिला टीम के प्रदर्शन में अद्भुत योगदान दिया। उन्हें राज्य सरकार की ओर से 50-50 लाख रुपये दिए जाएंगे।

पूर्व के फैसले को किया संशोधित :

सीएम ने कहा कि सरकार ने पहले ही राज्य के खिलाड़ियों को स्वर्ण जीतने पर दो करोड़, कांस्य पर एक करोड़ व रजत पर 50 लाख का पुरस्कार देने की घोषणा की थी. भारतीय महिला हॉकी टीम कांस्य पदक की जंग नहीं जीत सकी, लेकिन टीम के शानदार प्रदर्शन को देखते हुए राज्य सरकार ने पूर्व के फैसले को संशोधित करते हुए अपने खिलाड़ियों को 50-50 लाख रुपये देने का निर्णय लिया है.

CM ने टीम को उज्जवल भविष्य की शुभकामनाएं दीं

सीएम ने कहा कि टीम को इस मुकाम तक पहुंचाने में हर खिलाड़ी, कोच और सपोर्ट स्टाफ का योगदान है. पूरा झारखंड दिल की गहराइयों से उनका आभार प्रकट करते हुए उज्जवल भविष्य के लिए शुभकामनाएं देता है. झारखंड सरकार खेलों में आगे आने वाले खिलाड़ियों को हर प्रकार की सुविधा देने के लिए दृढ़ संकल्पित है.

हाल ही में राज्य सरकार ने खेलों में अंतरराष्ट्रीय पदक हासिल करने वाले खिलाड़ियों को नौकरी प्रदान की है. यह क्रम आगे भी जारी रहेगा. प्रतिभाशाली झारखंडी युवाओं की प्रतिभा निखारने के लिए हरसंभव सुविधा दी जायेगी, ताकि झारखंड के खिलाड़ियों का लोहा हर कोई माने.