सीएम नीतीश कुमार ने कहा: हम ढिंढोरा नहीं पीटते हैं, बल्कि काम करके दिखाते हैं

कल मंगलवार 10 अगस्त को राजधानी पटना में आयोजित एक कार्यक्रम में प्रदेश के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने 275 करोड़ के 989 परियोजनाओं का लोकार्पण, शिलान्यास और उद्घाटन किया। साथ ही मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने ई संजीवनी एप की शुरूआत की, इसके जरिए लोग घर बैठे स्वास्थ्य सुविधाएं हासिल कर पाएंगे। कार्यक्रम के दौरान इस मौके पर डिप्टी सीएम तार किशोर प्रसाद, रेणु देवी और स्‍वास्थ्‍य मंत्री मंगल पांडेय भी मौजूद थे।

सीएम ने कहा कि हम पिछले साल से ही कोरोनावायरस से मरने वाले लोगों को 4 लाख मुआवजा दे रहे हैं। लेकिन हम इसका ढिंढोरा नहीं पीते। कुछ लोग तो 50000 देते हैं और अखबारों में बड़े-बड़े विज्ञापन छपवाते हैं।

उन्होंने कहा कि हम बिहार के स्वास्थ्य व्यवस्था को ठीक करने के लिए लगातार काम कर रहे हैं। आप लोग पहले की स्थिति देख लीजिए। हमने 2006 में सर्वे कराया था तो पाया कि एक प्राथमिक केंद्र पर महीने में औसतन 40 मरीज ही पहुंच पाते थे। आज एक प्राथमिक केंद्र में महीने भर में 10000 लोगों का इलाज हो रहा है। तो काम हुआ है और आगे भी हम लोग करते रहेंगे।

सीएम ने कार्यक्रम के दौरान कहा कि पहले क्या स्थिति थी इसकी जानकारी भी सोशल मीडिया पर देनी चाहिए। नहीं तो लोग भूल जाते हैं। उन्हें पता होना चाहिए कि पहले क्या स्थिति थी और अब कितनी प्रगति हुई है।