लादाख में लगाया गया दुनिया का सबसे विशाल खादी का तिरंगा झंडा। आर्मी चीफ भी रहे मौजूद

महात्मा गांधी की 152वीं जयंती के अवसर पर आज लद्दाख के लेह में दुनिया का सबसे बड़ा खादी राष्ट्रीय ध्वज लगाया गया। इसका उद्घाटन आज सुबह लद्दाख के उपराज्यपाल आरके माथुर ने किया। 225 फीट लंबे और 150 फीट चौड़े तिरंगे का वजन करीब 1,000 किलोग्राम है। उद्घाटन समारोह का प्रसारण करने वाले राष्ट्रीय प्रसारक दूरदर्शन के अनुसार इसे भारतीय सेना की 57 इंजीनियर रेजिमेंट ने तैयार किया है।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया ने ट्विटर पर एक वीडियो साझा करते हुए कहा, “यह भारत के ध्वज के लिए बहुत गर्व का क्षण है कि गांधी जी की जयंती पर, लेह, लद्दाख में दुनिया के सबसे बड़े खादी तिरंगे का अनावरण किया गया। मैं इस भाव को सलाम करता हूं जो बापू की स्मृति को याद करता है, भारतीय कारीगरों को बढ़ावा देता है और राष्ट्र का सम्मान भी करता है। जय हिंद, जय भारत!”

बता दें कि इस झंडे को खादी ग्रामोद्योग समिति द्वारा तैयार किया गया है। सेना प्रमुख जनरल मनोज मुकुंद नरवणे, जो लद्दाख के दो दिवसीय दौरे पर हैं, ध्वज के उद्घाटन के दौरान सेना के अन्य अधिकारियों के साथ मौजूद थे। समाचार एजेंसी एएनआई द्वारा साझा किए गए घटना के एक वीडियो में, भारतीय वायु सेना के हेलीकॉप्टरों को राष्ट्रीय ध्वज को सलामी और सम्मान देने के लिए लेह में कार्यक्रम स्थल पर उड़ते हुए देखा जा सकता है।

बता दें कि उद्घाटन समारोह गांधी जयंती के साथ हुआ महात्मा गांधी की जयंती, जिन्होंने एक अहिंसक प्रतिरोध अपनाया और औपनिवेशिक ब्रिटिश शासन के खिलाफ स्वतंत्रता संग्राम में सबसे आगे रहे। कई नेताओं और मंत्रियों ने भी लेह में सबसे बड़े खादी तिरंगे को फहराए जाने के बारे में ट्विटर पर जानकारी साझा की।