भागलपुर के सत्यम मिश्रा को मिलेगा यूनेस्को के ग्लोबल टीचर का अवार्ड। शिक्षा मंत्री ने दी जानकारी

बिहार के युवा लगातार ग्लोबल मंच पर बिहार का नाम रौशन कर रहे हैं। इसके पहले हावर्ड यूनिवर्सिटी में एक बिहारी का छात्र संघ अध्यक्ष चुना जाना बिहार के लिए गर्व की बात तो थी। अब यूनेस्को ने भी भागलपुर के सत्यम मिश्रा को ग्लोबल टीचर अवार्ड के लिए चयनित किया। इसकी जानकारी बिहार के शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी ने दी। उन्होंने शनिवार को खुद सत्यम मिश्रा से भागलपुर में मुलाकात की।

10 लाख डॉलर होगी पुरस्कार की राशि।

बता दें कि पुरस्कार राशि के रूप में उन्हें करीब 10 लाख डॉलर यानी लगभग 7.5 करोड़ रुपए मिलेंगे। वे टिच फॉर इंडिया नामक एनजीओ से 2015 से जुड़े थे।

2017 में उन्होंने लड़कियों के शिक्षा के लिए तालिबान से विद्रोह करने वाली मलाला यूसुफजई के स्कूल से जुड़े थे। वहां पर उन्होंने 6 महीने तक ऑनलाइन के साथ – साथ ऑफलाइन मोड में पढ़ाया। यह उनके जीवन का टर्निंग प्वाइंट था।

अब तक 17 देशों में कर चुके हैं कार्य।

बता दें कि सत्यम मिश्रा ने अंडर प्रिविलेज बच्चों की शिक्षा के लिए खुद को समर्पित कर दिया है। वे अलग-अलग एनजीओ के माध्यम से बच्चों को शिक्षा प्रदान करते हैं। उन्होंने टीच फॉर इंडिया, टीच फॉर ऑल एनजीओ के साथ साथ , नेपाल, साउथ अफ्रीका ऑस्ट्रेलिया, जापान, अरमिनिया, स्पेन सहित 17 देशों में कार्य कर चुके हैं। वह अभी शिक्षक के रूप में टीजको स्लोवाकिया से जुड़े हुए हैं।