HomeMotivationalबीटेक की परीक्षा में 5 बार हुई फेल, पिता के निधन के...

बीटेक की परीक्षा में 5 बार हुई फेल, पिता के निधन के बाद किया यूपीएससी परीक्षा पास

यूपीएससी में सफल होना हर पढ़े-लिखे युवा का सपना होता है और वह सपना पूरा करने के लिए रात-दिन कड़ी मेहनत भी करते हैं. लेकिन आईएएस की परीक्षा में वही सफल हो पाते हैं जो सही रणनीति के साथ कड़ी मेहनत करते हैं. आपको एक ऐसे अफसर की कहानी बताने वाले हैं जो अपने बीटेक के तैयारी के दौरान 5 बार फेल हुई. लेकिन उन्होंने कभी हार नहीं माना.

हम आपको बताने वाले हैं आईएएस अधिकारी श्रुति शर्मा की कहानी, श्रुति शर्मा ने बताया कि वह बीटेक के दौरान 5 बार फेल हुई थी उन्हें यकीन नहीं था की वह आईएसएस एग्जाम को पास कर पाएंगी.

श्रुति शर्मा ने बताया कि मेरे परिवार से कोई कभी नौकरी नहीं किया क्योंकि मेरे घर में अधिकतर लोग बिजनेस करते हैं. लेकिन मैं पढ़ने में थोड़ी ठीक थी इसलिए मेरे पिता चाहते थे कि मैं खूब पढ़ो लिखो और नौकरी करु. इसलिए मेरा एडमिशन बीटेक मे करा दिया गया लेकिन मैं वहां पर ज्यादा समय मौज मस्ती में बिताती थी.

श्रुति शर्मा ने एक इंटरव्यू में बताया कि मैं बीटेक के पहले सेमेस्टर में दो बार फेल हो गई,और सेकंड सेमेस्टर में मैं तीन सब्जेक्ट में फेल हो गई.उन्होंने कहा मैं गेट के परीक्षा की तैयारी कर रही थी लेकिन मैं उसमें भी पास नहीं हो पाई और तभी मेरे पिताजी को गंभीर लीवर की बीमारी हो गई. मैं इन सब चीजों से काफी ज्यादा उदास रहने लगी.

दोस्तों ने दी UPSC की सलाह: श्रुति ने बताया कि मेरा यूपीएससी का परीक्षा देने का बिल्कुल भी मन नहीं था लेकिन मेरे दोस्त बार-बार कहते थे कि तुझे यूपीएससी की परीक्षा देना चाहिए. पहले प्रयास में 2 अंकों से यूपीएससी में फेल हो गई लेकिन मुझे यकीन हो गया कि मैं एग्जाम निकाल सकती हूं. लेकिन इसी के बीच मेरे पिताजी की तबीयत काफी ज्यादा खराब होने लगी और पिताजी किसी को पहचानना बंद कर दीए.

पिता का निधन: श्रुति ने बताया कि मैंने मेरे पिता के निधन के बाद में बुरी तरह टूट गई. तब मैंने ठान लिया कि मैं किसी upsc एग्जाम पास करके दिखाऊंगी. और मैंने कड़ी मेहनत के बल पर एग्जाम पास कर लिया. श्रुति का कहना है कि अगर आप दिल से किसी चीज को करना चाहेंगे तो आप जरुर सफल होंगे.

Most Popular