बिहार से यूपी जाने के लिए 2023 से होगा सिक्स लेन सड़क, जानिए किन जिलों से गुज़रेगी

आने वाले दिनों में दक्षिण बिहार की कनेक्टिविटी पड़ोसी राज्य उत्तर प्रदेश से और बेहतर होगी। राज्य की महत्वपूर्ण सड़क परियोजनाओं में से एक वाराणसी से औरंगाबाद करीब 192 किलोमीटर लंबाई में एनएच निर्माण 10 साल बाद भी अटका है। फिलहाल यह जीटी रोड एनएच-2 फोरलेन है इसका नया नामकरण एनएच -19 किया गया है। इसका निर्माण 2021 में शुरू हुआ था और अब इसे 2023 में पूरा होने की संभावना है। इसका 50 फ़ीसदी निर्माण पूरा हो चुका है।

इन जिलों को होगा फायदा।

इस सड़क के बन जाने के बाद यह राज्य का पहला सिक्स लेन नेशनल हाईवे होगा। इस सड़क के बनने से औरंगाबाद सहित रोहतास व गया जिलों को सीधा फायदा होगा साथ ही उत्तर प्रदेश, बिहार और झारखंड को बेहतर कनेक्टिविटी मिलेगी। 2021 में इसका निर्माण कार्य शुरू होने का समय इसकी लागत करीब 2848 करोड़ रुपए होने का अनुमान था अब लागत करीब 4100 करोड़ रुपए होने की संभावना है।

निर्माण कार्य में देरी होने की यह थी वजह।

सूत्रों की मानें तो वाराणसी से औरंगाबाद सिक्स लेन का निर्माण विलंब होने के कारण परियोजना की लागत भी बढ़ेगी। हालांकि अभी इसका आकलन होना बाकी है। निर्माण कार्य में विलंब का मुख्य कारण जमीन अधिग्रहण की समस्या है। अब जमीन अधिग्रहण की समस्या लगभग दूर हो चुकी है। ऐसे में अब इसके 2023 तक पूरा होने की संभावना है।