Homeबिहारबिहार विधानसभा चुनाव: भाजपा ने बनाई आक्रामक रणनीति, हर जिले में प्रचार...

बिहार विधानसभा चुनाव: भाजपा ने बनाई आक्रामक रणनीति, हर जिले में प्रचार रथ तो विधानसभा में घूमेगी मोटरसाइकिल

बिहार विधानसभा चुनाव में मतदाताओं को रिझाने के लिए भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) आक्रामक चुनाव प्रचार करेगी। चुनाव तिथि की घोषणा होने में अभी भले ही देर हो, लेकिन पार्टी ने चुनाव प्रचार की रणनीति बना ली है। कोरोना काल को देखते हुए पार्टी ऑनलाइन प्रचार पर अधिक जोर देगी। मगर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए पार्टी ने ऑफलाइन यानी मतदाताओं के बीच जाकर भी चुनाव प्रचार करने का निर्णय लिया है। 

पार्टी ने इस बार चुनाव प्रचार में एक चुनावी नारा पर काम करने का निर्णय लिया है। बीते दिनों हुई प्रदेश कार्यसमिति की बैठक में बिहार भाजपा प्रभारी सांसद भूपेन्द्र यादव ने ‘भाजपा है तैयार, आत्मनिर्भर बिहार’ का नारा दिया था। पार्टी इसी चुनावी नारे के साथ चुनावी मैदान में जाएगी। मतदाताओं तक इस नारा को पहुंचाने के लिए पार्टी ने प्रचार रथ चलाने का निर्णय लिया है। औसतन पांच-छह विधानसभा क्षेत्र पर या हर जिले में कम से कम एक पार्टी का एक चुनाव रथ होगा। इस हिसाब से पार्टी का कम से कम 40 प्रचार रथ होगा।  

प्रचार रथ में पीएम, सीएम की होगी तस्वीर
प्रचार रथ में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह, बिहार भाजपा प्रभारी भूपेन्द्र यादव, प्रदेश भाजपा अध्यक्ष डॉ. संजय जायसवाल के अलावा मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान की भी तस्वीर होगी। यानी प्रचार रथ भले भाजपा की ओर से शुरू की जाएगी, लेकिन पार्टी इससे यह संदेश भी देगी कि एनडीए एकजुट है। चुनाव भले ही कोई पार्टी लड़े, लेकिन वह एकजुट है। प्रचार रथ में मोदी सरकार के साथ ही बिहार सरकार की ओर से किए गए कार्यों को भी गिनाया जाएगा। 

15 साल बनाम 15 साल का बजेगा ऑडियो
लालू-राबड़ी सरकार के 15 साल और एनडीए के 15 साल के राज में हुए बिहार की तरक्की से संबंधित ऑडियो भी बजेगा। प्रचार रथ में एनडीए सरकार के दौरान हुए कार्यों से संबंधित पंफलेट होगा। चौक-चौराहा और बाजारों में मौजूद लोगों के बीच इसका वितरण होगा। वहीं हर विधानसभा में पार्टी का एक-एक मोटरसाइकिल घूमेगी। पार्टी ने सभी विधानसभा के लिए एक-एक विस्तारक बनाए हैं। इन विस्तारकों को एक-एक मोटरसाइकिल दी गई है। पार्टी की ओर से इन विस्तारकों को गाड़ी में तेल भरवाने के अलावा कुछ और पैसे भी दिये जा रहे हैं। गाड़ी भगवा रंग में रंगी हुई है। साथ ही गाड़ी पर भाजपा का झंडा भी होगा। यह बाइक विधानसभा क्षेत्रों में घूम-घूमकर एनडीए के पक्ष में चुनाव प्रचार करेगा। प्रदेश कार्यालय से हरी झंडी मिलते ही चुनाव प्रचार रथ और मोटरसाइकिल से एनडीए के पक्ष में चुनाव प्रचार-प्रसार शुरू कर दिया जाएगा

ऑनलाइन प्रचार के लिए सोशल मीडिया पर काम शुरू
ऑनलाइन प्रचार के लिए पार्टी ने सोशल मीडिया पर भी काम शुरू कर दी है। फेसबुक, ट्विटर, यू-ट्यूब, इंस्टाग्राम के माध्यम से पार्टी का प्रचार-प्रसार होगा। आईटी सेल के दो दर्जन प्रोफेशनल ने प्रदेश कार्यालय में काम शुरू कर दिया है। इसे वार रूम का शक्ल दिया गया है। यहां से न केवल सरकार के पक्ष में, बल्कि सरकार के विरोध में सोशल मीडिया पर बयानबाजी करने वालों को जवाब दिया जाएगा। राज्यभर में आईटी सेल से जुड़े एक हजार लोगों को इस काम में लगा दिया गया है। प्रदेश से लेकर पंचायत व बूथस्तर तक के नेताओं का वाट्सएप ग्रुप बना दिया गया है। स्थानीय स्तर पर पार्टी नेता अपने जानने वालों व मतदाताओं को पार्टी का संदेश वाट्सएप से आदान-प्रदान करेंगे। इसके लिए राज्यभर में आईटी सेल से जुड़े एक हजार कार्यकर्ताओं ने काम करना शुरू कर दिया है। आईटी सेल राज्य व केंद्र सरकार के कार्यों को सोशल मीडिया पर लगातार अपलोड करता रहेगा। 

Most Popular