बिहार में बन रहा एक शानदार सड़क, इन इलाकों में जल्द शुरू होगा भूमि अधिग्रहण की प्रक्रिया

पटना रिंग रोड को अंतर्जिला संपर्कता दिए जाने को केंद्र में रख बनने वाले पटना के शेरपुर से सारण के दिघवारा के बीच बनने वाले पुल के लिए भूमि अधिग्रहण की प्रक्रिया आरंभ हो गई है। भूमि अधिग्रहण मद में राज्य सरकार को 350 करोड़ रुपये का भुगतान करना है। पटना जिले में भूमि अधिग्रहण मद में राशि भुगतान किए जाने का काम जल्द आरंभ होगा। इस जिले के लिए भूमि अधिग्रहण मद में थ्री डी की प्रक्रिया पूरी हो गई है।

पटना जिले में छह गांवों में 67 हेक्टेयर भूमि का होना है अधिग्रहण

पटना रिंग रोड पैकेज दो के तहत इस पुल का निर्माण किया जाना है। इस प्रोजेक्ट के लिए पटना जिले में 67.068 हेक्टेयर भूमि का अधिग्रहण होना है, जो छह गांवों में पड़ रही है। अब तक 47.321 हेक्टेयर भूमि अधिग्रहण की थ्री डी अधिसूचना हो चुकी है। शेष 46.511 हेक्टेयर भूमि अधिग्रहण का मामला अभी शेष है। पटना में 19.4574 हेक्टेयर भूमि के अधिग्रहण का मामला अभी अधर में अटका है। यह जमीन गंगहारा दियारे की है।

सारण जिले में तीन गांवों में 22.2482 हेक्टेयर का होना है अधिग्रहण

सारण जिले में इस प्रोजेक्ट के लिए तीन गांवों में 22.2482 हेक्टेयर भूमि का अधिग्रहण होना है। इसी वर्ष सितंबर में 22.02 हेक्टेयर भूमि अधिग्रहण के लिए थ्री डी प्रक्रिया पूरी हुई है।

पटना व सारण दो जिलों में भूमि का होना है अधिग्रहण पटना जिले में भूमि की राशि वितरण शुरू करने की तैयारी 19.4574 हेक्टेयर भूमि के अधिग्रहण का मामला अधर में पटना रिंग रोड के अंतरजिला कनेक्टिविटी को बन रहा है पुल पुल के लिए भूमि अधिग्रहण पर खर्च होंगे 350 करोड़

जल्द ही डीपीआर की प्रक्रिया पूरी होगी

इस प्रोजेक्ट के लिए जल्द ही डीपीआर की प्रक्रिया पूरी होनी है। पुल की लंबाई एप्रोच रोड के साथ 20 किलोमीटर है। इसके निर्माण पर पांच हजार रुपये से अधिक का खर्च आएगा।

Note: तस्वीर काल्पनिक है।