बिहार में बनेगे बड़े-बड़े मॉल और पार्क इस देश की कंपनीयों ने खोलने में दिखाई रूचि, जानिए

जापान की टाप कंपनियों ने बिहार में निवेश में रुचि दिखाई है। खासकर स्मार्ट सिटी, बुद्धिस्ट पार्क व शापिंग माल खोलने की इच्छा जापानी कंपनियों ने जताई है। इसी सिलसिले में सोमवार को मुख्य सचिवालय स्थित कार्यालय कक्ष में उपमुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद से बिहार फाउंडेशन के जापान चैप्टर का प्रतिनिधिमंडल मिला। जापानी कंपनियों के इस प्रस्‍ताव से बिहार की सरकार गदगद है। सरकार की कोशिश है कि इनके प्रस्‍तावों को जल्‍द ही अमल में लाया जा सके।

प्रतिनिधिमंडल ने बताया कि जापान की कंपनी मित्सुई सुमितोमो, फुजीसीमा कंपनी लिमिटेड और ईएसपीएडी कंपनी लिमिटेड के अध्यक्ष दिसंबर में बिहार यात्रा पर आना चाहते हैं। ये सभी कंपनियां बिहार में काम करने के लिए इच्छुक हैं। बताया गया कि फिलहाल बोधगया में निको इंटरनेशनल को-ऑपरेशन फार कम्युनिटी डेवलपमेंट जैविक खेती के क्षेत्र में 2018 से काम कर रही है। चेरी टोमैटो तथा जैपनीज मेलन की खेती के साथ-साथ वृद्ध लोगों की सेवा की दिशा में कार्यरत है। उन्होंने बताया कि पटना में बिहार के छात्रों को जापानी भाषा का प्रशिक्षण देने के उद्देश्य से जैपनीज लैंग्वेज एंड कल्चरल सेंटर की स्थापना की गई है। इस क्षेत्र में जापान में रोजगार की अपार संभावनाएं हैं। प्रतिनिधिमंडल ने उप मुख्यमंत्री को अंग वस्त्र एवं प्रतीक चिह्न देकर सम्मानित किया।

  • स्मार्ट सिटी व बुद्धिस्ट पार्क में जापानी कंपनी ने दिखाई रुचि
  • उप मुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद से मिला जापानी प्रतिनिधिमंडल

दिसंबर में बिहार आना चाहते हैं टाप कंपनियों के अध्यक्ष

उप मुख्यमंत्री ने कहा कि यह खुशी की बात है कि जापान की कई बड़ी कंपनियां बिहार में उद्योग एवं अन्य क्षेत्रों में निवेश करना चाहती हैं। उन्होंने इस दिशा में अपेक्षित सहयोग का भरोसा दिया। मुलाकात के दौरान बिहार फाउंडेशन के जापान चैप्टर के अध्यक्ष आनंद विजय, निको इंटरनेशनल को-आपरेशन फार कम्युनिटी डेवलपमेंट के प्रतिनिधि हागीहारा नोजोमू, मारी सकुराबा, बिहार फाउंडेशन के विशेष कार्य पदाधिकारी सुशील कुमार आदि उपस्थित थे।