बिहार में बदल रहा है मौसम का मिजाज़, इतने डिग्री तक गिर सकता है तापमान

दिवाली के दिन पटाखों पर लगाए प्रतिबंध हवा में उड़ते रहे। नतीजा यह हुआ कि दिवाली के अगले दिन सुबह की हवा विषैली हो गई। इसका सबसे बुरा असरा राजधानी पटना के अलावा राज्यभर के मौसम पर भी पड़ा। पटाखों के कारण आंशिक धुंध हुई तो तापमान में भी वृद्धि दर्ज की गई। इसका असर दो दिनों तक रहने की संभावना मौसमविद् जता रहे हैं।

उधर, मौसम विज्ञान केंद्र पटना के अनुसार छठ में सुबह व शाम में सिहरन के संग ठंड बढ़ेगी। मौसम विज्ञान केंद्र पटना के अनुसार राजधानी समेत राज्य भर में विगत 24 घंटे में मौसम शुष्क रहा। सूबे में न्यूनतम तापमान गया में 13.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। जबकि राज्यभर में अधिकतम तापमान 28 से 30 डिग्री के बीच रह रहा है। प्रदेश में पश्चिम व उत्तर पश्चिम हवा अभी चल रही है।

अगले 24 से 48 घंटे में हल्के बादल दिखाई पड़ेंगे। इससे रात के तापमान में वृद्धि तथा दिन में तापमान कमी आएगी। पटना मौसम विज्ञान केंद्र के मौसमविद आशीष कुमार ने बताया कि दिवाली के बाद स्वभाविक रूप से तापमान में हल्की वृद्धि होती है। पटाखों से निकले पार्टिकल हवाओं की नमी को सोख लेते हैं। इससे तापमान में वृद्धि हो जाती है। हालांकि, धुंध के बढ़ने से फिर से मौसम सामान्य हो जाता है।

छठ में बढ़ेगी सिहरन, सुबह शाम ज्यादा असर

जानकारी के अनुसार दो दिन बाद मौसम सामान्य होगा। दिवाली के प्रदूषण का असर कम होते ही छठ के समय तापमान में गिरावट आएगी। इस बार छठ में सिहरन होने से ठंड बढ़ेगी। छठ के समय प्रदेश के कई इलाकों में अधिकतम और न्यूनतम तापमान में गिरावट देखने को मिलेगी।