Homeबिहारबिहार में गंगा नदी पर बनने जा रहा एक और पुल, इस...

बिहार में गंगा नदी पर बनने जा रहा एक और पुल, इस 14वां पुल से इन जिलों को होगा फ़ायदा

गंगा में जेपी सेतु के समानांतर एक और पुल बनेगा। पटना से अरेराज को जोड़ने वाली सड़क के क्रम में गंगा नदी पर चार लेन का पुल केंद्र सरकार बनाएगी। केंद्रीय सड़क एवं परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने ट्वीट कर यह जानकारी साझा की।

केंद्रीय मंत्री ने ट्वीट कर कहा कि पटना- साहेबगंज खंड के दीघा से शीतलपुर मार्ग पर गंगा नदी पर पांच किमी लंबे पुल के निर्माण को मंत्रालय द्वारा सैद्धांतिक रूप से सहमति दे दी गई है। जेपी सेतु के समानांतर चार लेन पुल बनाने का प्रस्ताव अरसे से लंबित था। केंद्र सरकार ने इस पुल को बनाने पर अपनी सहमति दे दी। जल्द इसके निर्माण की प्रक्रिया शुरू की जाएगी। जेपी सेतु के समानांतर बनने वाला पुल गंगा पर 14वां पुल होगा।

अभी गंगा पर बक्सर, आरा-छपरा, जेपी सेतु, राजेन्द्र सेतु, गांधी सेतु और विक्रमशिला सेतु है। जबकि निर्माणाधीन पुलों में जेपी सेतु के समानांतर के अलावा शेरपुर-दीघवारा, गांधी सेतु के समानांतर, कच्ची दरगाह-बिदुपुर, बख्तियारपुर-ताजपुर, मोकामा पुल के समानांतर, मुंगेर पुल और विक्रमशिला सेतु के समानांतर पुल शामिल है। जेपी सेतु के समानांतर पुल बनने से उत्तर बिहार से दक्षिण बिहार की संपर्कता और सुगम होगी। राजधानीवासियों को भी जाम की समस्या से मुक्ति मिलेगी। राजधानी पटना का गंगा नदी के उत्तर में और विस्तार होगा। नए इलाकों में आधारभूत संरचनाओं का निर्माण होगा।

पटना-अरेराज 125 किमी लंबी सड़क पर 5300 करोड़ खर्च

सूबे के पथ निर्माण मंत्री नितिन नवीन ने केंद्रीय मंत्री की ओर से दिए गए निर्णय पर प्रसन्नता जताई है। कहा कि पटना से अरेराज 125 किमी लंबी इस सड़क के निर्माण पर 5300 करोड़ खर्च आएगा। निर्माण कार्य तीन साल में पूरा करने का लक्ष्य है।

बुद्धा सर्किट के एलाइनमेंट को नेशनल हाइवे का दर्जा

पटना से साहेबगंज होते हुए केसरिया के रास्ते अरेराज तक जाने वाली सड़क के एलाइनमेंट में कोई बदलाव नहीं किया गया है। केंद्र सरकार ने बुद्धा सर्किट के एलाइनमेंट को नेशनल हाइवे का दर्जा दे दिया है। पटना (एम्स) के निकट एनएच-139 से प्रारंभ होकर बाकरपुर, मानिकपुर – साहेबगंज – अरेराज को जोड़ते हुए बेतिया के निकट एनएच -727 तक जाने वाली सड़क को भारतमाला परियोजना में सम्मिलित कर इसे नए एनएच-139डब्ल्यू के रूप में घोषित कर दिया गया है।

Note : तस्वीर काल्पनिक है।

Most Popular