बिहार में अगर आपके पास भी ऐसा बाइक है तो हो जाएं सावधान। पकड़े गए तो होगी ये कार्रवाई, जाने पूरा मामला

बाइक को अलग-अलग तरह से मॉडिफाई करके और उनमें हाई पावर साइलेंसर लगाकर चलने वाले सावधान हो जाएं। अब परिवहन विभाग ऐसे वाहनों पर कार्रवाई करने जा रहा है। वन विभाग ने पुलिस को निर्देश दिया है कि ऐसे वाहनों को जब्त किया जाए। दरअसल यह बात निकलकर सामने आई है कि 10% तक रोड एक्सीडेंट मॉडिफाई वाहनों के कारण हो रहे हैं।

देखा जा रहा है कि कुछ लोग रॉयल इनफील्ड जैसी बाइक में हाई पावर सैलेंसर लगाते हैं जो काफी आवाज करता है। अक्सर तेज रफ्तार में आ रहे हैं इन बाइक्स के आवाज से पैदल और अन्य दो पहिया वाहन से चलने वाले लोग घबरा जाते हैं जिससे सड़क पर हादसे हो रहे हैं।इस कारण से विभाग ने इसे गंभीरता से लेते हुए सभी जिलों में विशेष टीम गठित कर ऐसी गाड़ियों को जब्त कर प्राथमिकी दर्ज कराने का निर्देश दिया है। विभाग के मुताबिक, पटना, जहानाबाद, बेतिया, नालंदा, मुजफ्फरपुर, भागलपुर में मोडिफाइड गाड़ियों के तेज आवाज से दुर्घटनाएं अधिक हो रही हैं।

परिवहन विभाग की तरफ से 2020 में होने वाले हादसे और उनके कारणों की एक लिस्ट जारी की गई है।

कारण   हादसा    मृत्यु

ओवर स्पीड 3298 2713

गलत लेन में वाहन चलाना 740 550

मोबाइल का उपयोग 163 89

अन्य 4438 3347

कुल 8639 6699

इसके अलावा ट्रैफिक नियम करने वाले वो पर हुई कार्रवाई और वसूले गए जुर्माने के बारे में भी बताया गया है।

उल्लंघन चालकों की संख्या जुर्माना (लाख में)

हेलमेट 8483 ‍ ~162.25

सीट बेल्ट 869 ~8.7

गलत लेन 1081। ~16.36

मोबाइल का उपयोग 24 ~0.32

नाबालिक चालक 124 ~10.22

परिवहन विभाग के सचिव संजय कुमार अग्रवाल ने कहा कि, इन दिनों में देखा गया है कई बाइकर्स अपनी बाइकों में तरह-तरह के मॉडिफिकेशन करवा लेते हैं, जिससे दुर्घटनाएं होती हैं। तेज आवाज करने वाले मॉडिफाइड साइलेंसर लगाने वालों के खिलाफ सख्ती की जायेगी। ऐसा करने वालों पर जुर्माना लगाया जायेगा और नियमानुसार कार्रवाई होगी। या फिर पाया गया है कि रॉयल इनफील्ड कंपनी अपने बाइक में हाई पावर साइलेंसर लगाती है। संबंधित कंपनी को भी नोटिस भेजा जा रहा है।