बिहार-झारखण्ड के इस रेल रूट पर ट्रेनें चलेंगी दुगनी रफ़्तार से, जानिए कितना होगा स्पीड

भागलपुर दुमका रेलखंड पर भी अगले कुछ दिनों में 90 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से ट्रेनें दौड़ेंगी। इसके लिए प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। मालदा रेल मंडल ने इसके लिए प्रस्ताव बनाकर मुख्यालय को भेज दिया है। पहले चरण में भागलपुर से मंदारहिल स्टेशन के बीच 90 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार के लिए प्रस्ताव दिया गया है। इसके बाद मंदारहिल से दुमका तक के ट्रैक की स्पीड बढ़ाने का प्रस्ताव दिया जाएगा।

भागलपुर मंदारहिल रेलखंड पर अभी ट्रेनें अधिकतम 50 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चल सकती हैं। इससे अधिक रफ्तार की अनुमति नहीं है। इसमें भी कुछ जगहों पर काउशन है। मंदारहिल से दुमका के बीच अभी 60 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार है। इस सेक्शन में भी रफ्तार बढ़ाकर 90 किलोमीटर प्रति घंटे करायी जाएगी। ट्रेनों की रफ्तार बढ़ने से ट्रेनों की रनिंग टाइम घट जाएगी। अभी लगभग आधा घंटा अधिक समय लग रहा है।

भागलपुर-मंदारहिल रेलखंड पर नई दिल्ली-गोड्डा हमसफर एक्सप्रेस, गोड्डा-रांची एक्सप्रेस, कविगुरु एक्सप्रेस सहित अन्य पैसेंजर ट्रेनें चलती है। ट्रैक की स्पीड बढ़ जाने से इन ट्रेनों का रनिंग टाइम घट जाएगा। भागलपुर से गोड्डा और हावड़ा जाने वाली ट्रेनें कम समय में गंतव्य तक पहुंचा देगी। इस रेलखंड से जुड़े पीडब्ल्यूआई इंजीनियर की मानें तो इस पूरे रेलखंड पर पटरी बदलने का काम पूरा कर लिया गया है। अब कुछ अन्य कार्य हैं जो कराये जा रहे हैं। इसके बाद ट्रेन की स्पीड बढ़ायी जा सकती है। दुमका रेलखंड पर पुरानी पटरी होने के कारण हावड़ा की शार्ट रूट होने के बावजूद ट्रेन यात्रा लंबी होती थी।

पुरानी पटरियां होने के कारण लगती थी अधिक समय

दरअसल भागलपुर से मंदारहिल के बीच लगभग 50 साल पहले बिछी पुरानी पटरियां थी जिसपर ट्रेनें प्रतिबंधित रफ्तार से चल रही थीं। पटरियों को बदलने का आदेश भी था लेकिन नई पटरियों की आपूर्ति कम होने के कारण यह काम बेहद धीमा चल रहा था। पुरानी पटरी पर ट्रेनों की प्रतिबंधित रफ्तार के कारण भाया साहिबगंज के मुकाबले भाया दुमका 33 किमी दूरी कम होने के बावजूद ट्रेनें 11.30 घंटे में हावड़ा पहुंचती जबकि साहिबगंज के रास्ते महज 9 घंटे की रनिंग है।

साल 2011 में तत्कालीन डीआरएम एमके माथुर ने मंदारहिल रेलखंड की पुरानी पटरियों को बदलने का प्रस्ताव दिया था। डीआरएम मालदा रेल मंडल यतेन्द्र कुमार मंदारहिल रेलखंड पर भी ट्रेनों की स्पीड बढ़ायी जाएगी। इसके लिए प्रक्रिया चल रही है। जहां जरूरत है काम भी कराया जा रहा है। अगले कुछ दिनों में यह काम हो जाएगा।