Homeबिहारबिहार के 15 जिलों में 66 सड़के बनाई जाएगी, जानिए किस योजना...

बिहार के 15 जिलों में 66 सड़के बनाई जाएगी, जानिए किस योजना से होगा निर्माण

प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना-तीन के तहत राज्य के 15 जिले में 66 सड़कों व 38 पुलों का निर्माण होगा। ग्रामीण कार्य विभाग ने इसकी मंजूरी दे दी है। सड़क निर्माण के साथ ही पांच साल तक इसकी मरम्मत मद में सरकार 306 करोड़ खर्च करेगी। तीन साल के भीतर इन सड़कों का निर्माण कार्य पूरा कर लिया जाएगा।

विभागीय अधिकारियों के अनुसार, पीएमजीएसवाई-तीन के तहत राज्य के 15 जिले औरंगाबाद, बेगूसराय, भोजपुर, पूर्वी चम्पारण, गया, जमुई, कैमूर, मधेपुरा, मुंगेर, नालंदा, पूर्णिया, शिवहर, सीतामढ़ी, वैशाली व पश्चिम चम्पारण का चयन किया गया है। इन जिलों में कुल 410.17 किलोमीटर सड़कों का निर्माण होगा। जबकि 38 पुलों का भी निर्माण होगा जिसकी लंबाई 910.94 मीटर है। कुल खर्च होने वाली राशि 306 करोड़ 64 लाख में से 60 फीसदी राशि केंद्र सरकार तो 40 फीसदी राशि राज्य सरकार वहन करेगी। इस तरह कुल राशि में से बिहार सरकार 114 करोड़ 42 लाख अंशदान करेगी।

कार्यपालक अभियंता होंगे जिम्मेवार

सड़क व पुलों के निर्माण का जिम्मा विभाग ने कार्यपालक अभियंताओं को दिया है। कार्य सम्पादन हेतु राशि निकासी व व्ययन पदाधिकारी कार्यपालक अभियंता ही होंगे। ग्रामीण सड़कों का निर्माण मानक निविदा के आधार पर होगा। इंजीनियरों की ओर से जल्द ही ई-टेंडर जारी किया जाएगा। योजना पर काम करने के पहले इंजीनियरों को कहा गया है कि वे इसकी विधिवत अनुमति लें। काम शुरू होने के बाद इंजीनियरों को हर हाल में तय समय में उसे पूरा करना होगा। इसके लिए समय-समय पर इंजीनियरों को निरीक्षण भी करना होगा। इंजीनियरों ने कितनी बार सड़क निर्माण के दौरान निरीक्षण किया और किस चरण की प्रगति का जायजा लिया, वह चरणवार तरीके से ब्योरा विभाग को उपलब्ध कराना होगा। कार्यपालक अभियंताओं को निरीक्षण की पूरी रिपोर्ट अधीक्षण अभियंता व मुख्य अभियंताओं को देनी होगी।

169 सड़कों का होना है निर्माण

पीएमजीएसवाई-तीन में राज्य में 169 सड़कों का निर्माण होना है, जिसकी लंबाई 1390.308 किलोमीटर है। इस मद में 1140.99 करोड़ खर्च होने हैं। जबकि 39 पुलों का भी निर्माण होना है जिसकी कुल लंबाई 998.68 मीटर है। इस पर 56 करोड़ 29 लाख खर्च होंगे। इन सड़कों व पुलों के निर्माण व पांच साल तक मरम्मत मद में कुल 1197 करोड़ 28 लाख खर्च होने हैं, जिसमें से राज्यांश 556 करोड़ 34 लाख रुपए हैं। इसी योजना के पहले चरण में विभाग ने 66 सड़कों व 38 पुलों के निर्माण की मंजूरी दी है जिस पर 306 करोड़ खर्च होंगे।

Note: तस्वीर काल्पनिक है ।

Most Popular