बिहार के 10 शहर जुड़ेंगे ईआरएसएस से, आपतकाल में तुरंत पहुंचेगी मदद

लोगों की सुरक्षा और आपात स्थिति के दौरान उनतक जल्द से जल्द मदद पहुंचाने के लिए इमरजेंसी रिस्पांस सपोर्ट सिस्टम (इआरएसएस) शुरू किया जाएगा। इसके लिए 15 दिनों के भीतर अपने इलाके के संवेदनशील जगहों की तस्वीरें अपलोड करनी होगी। एसएसपी उपेंद्र शर्मा ने बुधवार को इस मामले को लेकर सभी थानेदारों के साथ एक बैठक की।

ईआरएसएस अब बात सेवा के दौरान एक सपोर्ट सिस्टम है। जिसमें 112 नंबर पर कॉल करने पर, उस व्यक्ति की लोकेशन प्रशासन तक पहुंच जाती है फिर उसे संबंधित विभाग से कनेक्ट करके तत्काल उन तक मदद पहुंचाई जाती है। इसे दुर्घटना, महिला सुरक्षा, आगजनी , मेडिकल इमरजेंसी तथा पुलिस की सहायता के लिए उपयोग किया जा सकता है।

इसे लेकर डीजीपी एसके सिंघल और एडीजी कमजोर वर्ग अनिल किशोर यादव बुधवार को एसएसपी कार्यालय पहुंचे इस दौरान पटना और नालंदा रेंज में आने वाले जिलों के डीएसपी व अन्य अफसर भी मौजूद थे। एडीजी ने दोनों जिलों की समीक्षा की।

दिसंबर तक इस सेवा को शुरू कर दिया जाएगा। लिहाजा तमाम पुलिसकर्मियों को इस संबंध में ट्रेनिंग दी जा रही है।