Homeबिहारबिहार के सरकारी स्कूलों में पढ़ाई करना हुआ महंगा, जानिए अब कितना...

बिहार के सरकारी स्कूलों में पढ़ाई करना हुआ महंगा, जानिए अब कितना लगेगा शुल्क

राज्य के माध्यमिक और उच्च माध्यमिक विद्यालयों में विद्यार्थियों का प्रवेश शुल्क बढ़ाकर 50 रुपये कर दिया गया है। अब-तक यह शुल्क क्रमश: 20 रुपये और 15 रुपये था। इसी प्रकार विकास शुल्क के रूप में माध्यमिक विद्यालयों में 80 रुपये को यथावत रखते हुए उच्च माध्यमिक विद्यालय में यह शुल्क 160 से 200 रुपये कर दिया गया है।

वहीं माध्यमिक विद्यालय में अनुपस्थिति और विलंब शुल्क दंड को खत्म कर दिया गया है, जो एक रुपये था। इसी प्रकार माध्यमिक विद्यालय में पुन: प्रवेश शुल्क को भी समाप्त कर दिया गया है। हाईस्कूलों में पलायन शुल्क को भी समाप्त कर दिया गया है। शिक्षा विभाग ने मंगलवार को यह आदेश जारी कर दिया।

माध्यमिक में मनोरंजन शुल्क को 10 से बढ़ाकर 20, विद्युत शुल्क को 10 से 20 और विद्यालय रखरखाव के रूप में 50 रुपये नया शुल्क लगाया गया है। उच्च माध्यमिक विद्यालय में मनोरंजन शुल्क को 20 से बढ़ाकर 60, विद्युत शुल्क को 60 से बढ़ाकर 80 तथा रखरखाव शुल्क को यथावत 150 रखा गया है।

माध्यमिक में परिचय पत्र के लिए 20 रुपये लगेंगे जो पहले नहीं लिये जाते थे। उच्च माध्यमिक में परिचय पत्र के लिए पूर्व की भांति 20 रुपये ही लगेंगे। माध्यमिक में फॉर्म और प्रॉस्पेक्टस का शुल्क 50 रुपये होगा, जो पहले नहीं था। कक्षा नौ में नामांकित छात्रों का उसी विद्यालय में कक्षा 11वीं में नामांकन शुल्क नहीं लगेगा।

अनुसूचित जाति, जनजाति से शिक्षण और विकास शुल्क नहीं लिये जाएंगे। सभी शुल्क नौवीं एवं 11वीं में नामांकन के समय और दसवीं और 12वीं में सत्र आरंभ के समय लिये जाएंगे। परिचय पत्र शुल्क केवल नौंवी और 11 वीं में नामांकन के समय लगेगा।

Most Popular