बिहार के ये तीन एनएच दरभंगा-रोसड़ा, भागलपुर-हसडीहा, हाजीपुर-बछवाड़ा बनेंगे फोरलेन

राज्य में दरभंगा-रोसड़ा, भागलपुर-हसडीहा और हाजीपुर-बछवाड़ा के बीच फोरलेन नेशनल हाइवे बनाने की तैयारी शुरू हो चुकी है. इसके लिए पिछले दिनों केंद्र सरकार ने मंजूरी दे दी थी. इन सभी सड़कों के दोनों तरफ पौधारोपण भी होगा. इसी साल इन सड़कों के निर्माण के लिए एजेंसी चयन की प्रक्रिया पूरी होने की संभावना है. अगले साल की शुरुआत में निर्माण शुरू होने पर इसे 2023 तक बनने की संभावना है.

इससे आवागमन सुविधा बढ़ेगी. साथ ही आर्थिक और सांस्कृतिक विकास होगा. सूत्रों के अनुसार दरभंगा (एनएच-27) से रोसड़ा तक करीब 46.45 किमी लंबाई में 527इ सड़क को फोरलेन बनाया जायेगा. यह सड़क आइटीआइ, रामनगर से शुरू होकर दरभंगा- बहेड़ी- शिवाजीनगर-रोसड़ा पथ के पश्चिम से होते हुए निकलेगी. यह सड़क बिल्कुल नयी है. इसके लिए जमीन अधिग्रहण की प्रक्रिया चल रही है.

एक नजर में हाजीपुर-बछवाड़ा सड़क

करीब 54.96 किमी लंबाई में हाजीपुर-बछवाड़ा सड़क एनएच 122बी को हाजीपुर (एनएच 22) से बछवाड़ा में एनएच 122 तक फोरलेन बनाने की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है. यह सड़क वाया महनार और मोहिनुद्दीननगर से होकर गुजरेगी. इस सड़क के फोरलेन बनने से बछवाड़ा से पटना आने और पटना से सहरसा, पूर्णिया जाने वालों को लाभ होगा.

डीपीआर बनाने के लिए दिल्ली की एजेंसी का किया गया है चयन

भागलपुर से हसडीहा तक करीब 63 किमी लंबाई में एनएच 133इ को करीब 1700 करोड़ रुपये की लागत से फोरलेन बनाया जायेगा. इस सड़क की डीपीआर बनाने के लिए दिल्ली की चैतन्या कंसल्टेंसी का चयन किया गया है.

इस सड़क की चौड़ाई सात मीटर से बढ़ कर 15 मीटर हो जायेगी. सड़क के दोनों ओर दो-दो मीटर का फुटपाथ भी बनेगा. इस सड़क की चौड़ाई बढ़ने से झारखंड पहुंचने में कम समय लगेगा.