बिहार के कुछ जिलों में छाए रहेंगे बादल तो कुछ जिलों में होगी बारिश

बिहार में मानसून की मेहरबानी लगातार बनी हुई है। जून से अब तक मानसून ने राज्य के प्रायः सभी हिस्सों में औसत से अधिक बारिश कराई है। मानसून की ट्रफ लाइन फिलहाल फिरोजपुर, संगरूर, दिल्ली, गया, मालदा, त्रिपुरा होते हुए बांग्लादेश तक गुजर रही है। इसके प्रभाव से अगले 24 घंटों के दौरान राज्य के उत्तर पूर्व जिलों के किशनगंज, अररिया, मधुबनी, कटिहार, पूर्णिया, सुपौल आदि जिलों में मेघ गर्जन व भारी बारिश का पूर्वानुमान है। मौसम विभाग की ओर से इन जिलों में भारी बारिश को लेकर अलर्ट जारी किया है।

पटना में छाए रहेंगे बादल, एक-दो स्थानों पर बारिश

सोमवार को राजधानी समेत इसके आसपास के इलाकों में धूप खिले होने के साथ मौसम भी सामान्य रहा। वहीं शाम में आकाश में बादल छाए रहे। मौसम विज्ञान केंद्र के पूर्वानुमान के अनुसार तीन से पांच अगस्त तक पटना व इसके आसपास इलाकों में आंशिक रूप से बादल छाए रहने की संभावना व एक या दो स्थानों पर बारिश व गरज के साथ छींटे पडऩे की संभावना है। इस कारण अधिकतम तापमान में दो से तीन डिग्री कमी की संभावना है।

सबसे अच्छी बारिश बगहा में हुई दर्ज

बीते 24 घंटे के दौरान राज्यभर में मानसून की गतिविधियां सामान्य रहीं। कुछ जगहों पर भारी तो कुछ जगहों पर हल्के से मध्यम स्तर की बारिश दर्ज की गई। इसमें बगहा में 109 मिमी, मोरवा समस्तीपुर में 96.4 मिमी, परसा (सारण) में 92.8 मिमी, सरिया (मुजफ्फरपुर) में 76.8 मिमी, चकिया (पूर्वी चंपारण) में 64.2 मिमी, चनपटिया में 60 मिमी, डुमरिया घाट में 80 मिमी, चटिया में 40 मिमी, नौहट्टा (सहरसा) में 63.6 मिमी, पूसा (समस्तीपुर) में 47.8 मिमी, मुसहरी (मुजफ्फरपुर) में 45.2 मिमी बारिश हुई। सबसे अधिक 109 मिलीमीटर बारिश बगहा में हुई।