बिहार के इस ज़िला में रिवरफ्रंट डेवलपमेंट का काम शुरू, खूबसूरत दिखेगा गंगा का किनारा

स्मार्ट सिटी परियोजना के तहत बिहार के अलग-अलग शहरों में कई सारी विकास योजनाओं पर काम चल रहा है। इसी के तहत भागलपुर के बरारी क्षेत्र में गंगा किनारे रिवर फ्रंट डेवलपमेंट का काम शुरू हो गया है। इसमें 162.69 करोड़ रुपये खर्च होना है। यह कार्य गुजरात की एजेंसी मेसर्स वत्सल कंसट्रक्शन कंपनी की ज्वाइंट वेंचर को मिला है। एजेंसी की ओर से पुल घाट के नीचे कंक्रीट तैयार करने वाली मशीन के लिए फाउंडेशन बनाना शुरू किया गया है। इसके बाद निर्माण कार्य की प्रक्रिया आगे बढ़ाई जाएगी।

2 साल के अंदर कार्य होगा पूरा।

दो दिन पूर्व डीएम सुब्रत कुमार सेन ने स्मार्ट सिटी के अफसरों से कहा था कि वेलोग दिवाली व छठ के बीच जमीन की मापी करा लें और संबंधित लोगों से दावा आपत्ति के लिए समय निर्धारित करें। जहां अतिक्रमण होगा वहां सदर एसडीओ हटवायेंगे। एजेंसी को 24 महीने के अंदर ही निर्माण पूरा करना है। वहीं इस योजना के तहत श्मशान घाट में एक साथ दो शवों के अंतिम संस्कार करने के लिए अलग से मशीन लगाई जाएगी, जिसमें एक रिजर्व रखा जाएगा और दूसरा चालू रहेगा। यानी कि नगर विकास विभाग की ओर से चल रहे विद्युत शवदाह गृह चालू रहेगा और स्मार्ट सिटी की भी एक मशीन चालू रहेगी। स्मार्ट सिटी के एमडी प्रफुल चन्द्र यादव ने कहा कि रिवर फ्रंट डेवलपमेंट का निर्माण कार्य शुरू हो गया है।

यहां पर वाटर पार्क बनाने का कार्य शुरू।

भैरवा तालाब में वाटर पार्क बनाने के लिए भी एजेंसी ने काम शुरू कर दिया है। यह काम योगी कंस्ट्रक्शन की ज्वाइंट वेंचर को मिला है। 21 महीने में यह काम कराया जाना है। स्मार्ट सिटी कंपनी के सीजीएम संदीप कुमार ने बताया कि तालाब से पानी निकालने का काम शुरू हो गया है। इसके निर्माण कार्य को भी जल्द ही पूरा होने की संभावना है।

Note: तस्वीर काल्पनिक है।