Homeबिहारबिहार के इस सड़क को चकाचक फोरलेन बनाया जाएगा, बंगाल की दूरी...

बिहार के इस सड़क को चकाचक फोरलेन बनाया जाएगा, बंगाल की दूरी 80 किलोमीटर हो जाएगी कम

एक तरफ प्रदेश में अलग-अलग इलाकों के कनेक्टिविटी बेहतर करने के लिए कई नई सड़कों का निर्माण तो कराया ही जा रहा है इसके कुछ पुरानी सड़कों का चौड़ीकरण कर उन्हें फोरलेन में बदला जा रहा है। इसी कड़ी में एनएच 327 ई. के परसरमा से अररिया तक चौड़ीकरण कर फोरलेन बनाने का रास्ता साफ हो गया। फिलहाल इसके लिए डीपीआर बनेगी। इस संबंध में ऊर्जा मंत्री बिजेंद्र प्रसाद यादव ने केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी को पत्र लिख प्रस्ताव भेजा था।

डीपीआर के लिए टेंडर जारी।

अब केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने पत्र से बिजेंद्र प्रसाद यादव को यह सूचना दी है। पत्र में बताया गया है कि एनएचएआइ ने डीपीआर बनाने के लिए टेंडर जारी कर दिया है। सूत्रों के अनुसार सुपौल से होकर गुजरने वाली सड़क एनएच को जोड़ती है। राष्ट्रीय उच्च पथ संख्या 106 वीरपुर-बीहपुर पथ, भारतमाला परियोजना की सड़क 527 ए. जो उच्चैठ भगवती स्थान मधुबनी से महिषी तारा स्थान सहरसा तक जाती है।

बंगाल की दूरी 80 किलोमीटर हो जाएगी कम।

बता दें कि 327 ए. सुपौल-भपटियाही सरायगढ़ सड़क जो ईस्ट-वेस्ट-कॉरिडर सड़क से मिलती है, इसका सीधा संपर्क राष्ट्रीय उच्च पथ संख्या 327 ई से है। इस सड़क के पुरी तरह बनकर तैयार होने के बाद बंगाल की दूरी लगभग 80 किलोमीटर कम हो जायेगी।

Note: तस्वीर काल्पनिक है।

Most Popular