बिहार के इस शहर में 100 करोड़ के लागत से विकसित होगा औद्योगिक क्षेत्र

अरसे बाद उत्तर बिहार के प्रमुख औद्योगिक क्षेत्रों में शुमार रहे हाजीपुर औद्योगिक क्षेत्र के विकास की दिशा में गंभीर पहल शुरू की गई है। केंद्रीय गृह राज्यमंत्री नित्यानंद राय की पहल पर औद्योगिक क्षेत्र के विकास की दिशा में कार्रवाई तेज की गई है। प्रथम चरण में आवश्यक सुविधाओं की जल्द से जल्द उपलब्धता पर जोर देते हुए आवश्यक कार्रवाई शुरू कर दी गई है। सबसे पहले उद्यमियों की समस्याओं का निराकरण कर उन्हें यहां काम का बेहतर माहौल उपलब्ध का सरकार का संकल्प है। अभी बीते जून माह में ही बिहार के उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज हुसैन के निर्देश पर बियाडा ने इस दिशा में कार्रवाई भी तेज कर दी है। उम्मीद जताई जा रही है कि चालू वित्तीय वर्ष के अंत तक हाजीपुर औद्योगिक क्षेत्र को सजाने-संवारने के साथ तरक्की का सपना साकार होने लगेगा।

उद्योग मंत्री के साथ हाजीपुर पहुंच रहे केंद्रीय गृह राज्यमंत्री

केंद्रीय गृह राज्यमंत्री नित्यानंद राय 14 नवंबर को हाजीपुर के औद्योगिक क्षेत्र पहुंच रहे हैं। उनके साथ बिहार के उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज हुसैन भी होंगे। हाजीपुर औद्योगिक क्षेत्र के विकास को लेकर गहन मंथन होगा। यहां उद्योगपतियों के साथ व्यापक विचार-विमर्श के उपरांत विकास को रणनीति बनेगी। हाजीपुर औद्योगिक क्षेत्र में यह महत्वपूर्ण बैठक सुबह 11 बजे से होगी। इस मौके पर उद्योग विभाग एवं बियाडा के वरिष्ठ अधिकारी भी मौजूद रहेंगे। बताया जा रहा है कि उसी दिन यहां पर उद्योग मंत्री शाहनवाज कुछ यूनिट का भी उद्घाटन करेंगे। हाजीपुर औद्योगिक क्षेत्र में आयोजित होने वाली इस महत्वपूर्ण बैठक से यहां उद्योगों के विकास की उम्मीद जगी है।

केंद्रीय गृह राज्यमंत्री ने जून में दिल्ली में की थी बैठक

इसी वर्ष जून माह में ही केंद्रीय गृह राज्यमंत्री नित्यानंद राय ने उत्तर बिहार के प्रमुख औद्योगिक क्षेत्रों के विकास को लेकर दिल्ली में बिहार के उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज हुसैन के साथ गहन विचार-विमर्श किया था। खास तौर पर हाजीपुर एवं समस्तीपुर औद्योगिक विकास पर चर्चा के बाद विकास का निर्णय लिया गया था। केंद्रीय मंत्री राय की पहल पर इस दिशा कार्रवाई तेज की गई। इसके बाद हाजीपुर के भाजपा विधायक अवधेश ङ्क्षसह पटना पहुंच उद्योग मंत्री शाहनवाज से मिले थे। तत्काल कार्रवाई करते हुए प्रथम चरण में उद्यमियों की समस्याओं के निराकरण के साथ आवश्यक सुविधाएं उपलब्ध कराने को लेकर उद्योग मंत्री ने विकास के लिए राशि की मंजूरी की बात कही थी।

करीब सौ करोड़ रुपये होंगे खर्च, डीपीआर तैयार

प्रथम चरण में आवश्यक सुविधाओं की जल्द से जल्द उपलब्धता पर जोर देते हुए आवश्यक कार्रवाई शुरू कर दी गई है। सबसे पहले उद्यमियों की समस्याओं का निराकरण कर उन्हें यहां काम का बेहतर माहौल उपलब्ध का सरकार का संकल्प है। इसके लिए डीपीआर भी करीब-करीब तैयार किया जा चुका है। करीब सौ करोड़ रुपये खर्च होने की उम्मीद है। बिहार के उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज हुसैन के निर्देश पर बियाडा ने इस दिशा में कार्रवाई भी तेज कर दी है।

उद्योगों के विकास को भूमि की उपलब्धता पर खास जोर

हाजीपुर औद्योगिक क्षेत्र में उद्योगों के विकास के लिए भूमि की उपलब्धता पर खास जोर दिया गया है। कारण यह है कि हाजीपुर में बियाडा के पास महज तीन एकड़ जमीन ही शेष रह गई है। यहां नए उद्योगों की स्थापना के लिए जमीन का आवश्यकता होगी। विधायक अवधेश सिंह ने बताया कि इस संबंध में मंत्री शाहनवाज ने बियाडा को आवश्यक कार्रवाई करने का निर्देश दिया है। साथ ही जल-जमाव से उद्यमियों को निजात दिलाने के लिए ड्रेनेज सिस्टम को दुरुस्त करने, सड़कों के निर्माण, हाइमास्ट एवं स्ट्रीट लाइट समेत अन्य संरचनाओं का यहां विकास करने के लिए राशि की मंजूरी कर दी गई है।