Homeबिहारबिहार के इस शहर में चकाचक फोरलेन रिंग रोड बनायेगी केन्द्र सरकार,...

बिहार के इस शहर में चकाचक फोरलेन रिंग रोड बनायेगी केन्द्र सरकार, जानिए

हाल ही में बिहार सरकार ने घोषणा की थी कि राजधानी पटना की तर्ज पर राज्य के पांच अन्य बड़े शहरों में रिंग रोड बनाया जाएगा। इससे शहर की ट्रैफिक पर पड़ने वाले लोड को कम किया जा सकेगा। स्मार्ट सिटी परियोजना के तहत मुजफ्फरपुर में बनने वाले रिंग रोड को अब बिहार सरकार के बजाय केंद्र सरकार की नेशनल हाईवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया(NHAI) बनाएगा। पहले बिहार का पथ निर्माण विभाग का निर्माण करने वाला था लेकिन लागत राशि में वृद्धि के कारण अब केंद्र सरकार ने इसे अपने हाथ में ले लिया है।

जल्द शुरू होगी जमीन अधिग्रहण की प्रक्रिया।

इसके लिए मंत्रालय ने जिस गांव व नवगठित नगर पंचायत माधोपुर सुस्ता से होकर रिंग रोड का निर्माण होगा उस गांव व नगर पंचायत की अधिसूचना जारी करते हुए जमीन अधिग्रहण की कार्रवाई शुरू करने का आदेश दिया गया है। बता दें कि पहले से प्रस्तावित रिंग रोड का निर्माण कराने की जिम्मेदारी पथ निर्माण विभाग को मिली थी।

बता दें कि पहले विभाग ने 344 करोड़ रुपये खर्च का प्रस्ताव तैयार किया था। इसमें जमीन अधिग्रहण के बदले भुगतान की भी राशि शामिल थी, लेकिन बाद में जब शहर विस्तारीकरण के साथ रिंग रोड की चौड़ाई बढ़ाने का निर्णय हुआ। तब इस प्रस्ताव को केंद्र सरकार को ट्रांसफर कर दिया गया है।

ऐसा होगा रिंग रोड का स्वरूप।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार एनएच-28, एनएच-77, एनएच-57 व एनएच-102 को यह रिंग रोड जोड़ेगा। इसमें मुजफ्फरपुर-पटना फोरलेन से निकला रिंग रोड माधोपुर सुस्ता होते हुए एनएच 28 में काजीइंडा के पास मिलेगा। यह बुधनगरा-रजवाड़ा पथ में मणिका के पास बूढ़ी गंडक नदी को क्रॉस करते हुए एनएच 57 में मझौली के पास मिलेगा। इससे तीनों एनएच आपस में जुड़ जायेंगे, जिसकी प्रस्तावित लंबाई 21.10 किमी है। इस रोड में बूढ़ी गंडक नदी पर बुधनगरा घाट पर आरसीसी उच्चस्तरीय दो ब्रिज का निर्माण प्रस्तावित है। इसमें एक मुजफ्फरपुर-समस्तीपुर एवं दूसरा मुजफ्फरपुर हाजीपुर रेल मार्ग पर होगा।

बाईपास से भी जुड़ेगा रिंग रोड।

मुजफ्फरपुर-पटना फोरलेन को सीधे मधौल से पताही, खरौना होते हुए रेवा रोड को क्रॉस करा सदातपुर कांटी तक फोरलेन का निर्माण अभी एनएचएआई से कराया जा रहा है, जिसकी लंबाई लगभग 17 किमी है। कांटी सुधा डेयरी से लेकर मझौली तक मुजफ्फरपुर-दरभंगा को जोड़ने वाली एनएच 57 को जोड़ते हुए पश्चिमी क्षेत्र का एक रिंग रोड होगा। यह सीधे मधौल से काजीइंडा होते हुए मझौली तक मुजफ्फरपुर के पूर्वी भाग को जोड़ता है. उससे मिल जायेगा। इस रिंग रोड के निर्माण होने से एनएच-57, एनएच-28 व एनएच-77 को शहर के बाहर-बाहर से जोड़ देगी।

Note: तस्वीर काल्पनिक है।

Most Popular