बिहार का लगातार पर्यटन क्षेत्र में विकसित करने के लिए राज्य सरकार लगातार काम कर रही है। चंपारण के वाल्मीकिनगर क्षेत्र काफी सुंदर प्रकृति के गोद में बसा शहर है। इस शहर की सुंदरता पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करती है तो वहीं निरंतर पर्यटक इस सुंदरता को निहारने करने के लिए काफी दूर से पर्यटक यहाँ पहुंचते है। लेकिन यहां ठहरने की एक बेहतर व्यवस्था की कमी हमेशा सबको महसूस हो रही थी। दक्षिण बिहार आनेवाले पर्यटक चंपारण जैसी जगहों पर इसलिए नहीं जा पाते हैं कि वहां ठहरने की सही व्यवस्था नहीं है और सुबह जाकर शाम में पटना लौट आना काफी थकान भरा सफर हो जाता है।

25 एकड़ के जगह में तैयार होगा शानदार गेस्ट हाउस
इस समस्या को देखते हुए राज्य सरकार ने पर्यटकों की सुविधा के लिए यहाँ ठहरने की विश्वस्तरीय व्यवस्था करने जा रही है। बता दे कि बाल्मीकिनगर के 25 एकड़ भू-भाग में आधुनिक एवं उच्च कोटि का वाल्मीकि सभागार और गेस्ट हाउस का निर्माण किया जाएगा। वाल्मीकि सभागार एंड गेस्ट हाउस का निर्माण शुरू कराने के लिए सचिव, भवन निर्माण विभाग की अध्यक्षता में वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से समीक्षात्मक बैठक भी हुई है।

इस गेस्ट हाउस में पर्यटकों को मिलेगी खास सुविधा प्रस्तावित वाल्मीकि सभागार एंड गेस्ट हाउस में ग्राउंड फ्लोर पर 500 सीटर ऑडिटोरियम, बैक स्टेज, ग्रीन रूम, वीआईपी लांज, लॉबी, ऑफिस, डाईनिंग हॉल, किचेन, स्टोर, पब्लिक टॉयलेट्स, मल्टीपरपरस हॉल विथ मोभेवल पार्टिसन्स सहित एक्टिविटी रूम का निर्माण कराया जाना है। इसी तरह से फस्ट फ्लोर पर एक्टिविटी रूम, मल्टी परपस हॉल, मीटिंग रूम, लॉबी, पेन्ट्री, पब्लिक टॉयलेट्स का निर्माण कराया जाना है।

3 गेस्ट हाउस में 27 रूम का निर्माण कराया जाना है
इसके साथ ही एक गेस्ट हाउस में 21 रूम सहित 03 सुईट्स का निर्माण तथा अन्य 03 गेस्ट हाउस में 27 रूम का निर्माण कराया जाना है। वेटिंग लांज, रिसेप्शन, बैक ऑफिस, लिविंग रूम, किचेन एंड डाईनिंग आदि की व्यवस्था की जानी है। गेस्ट रूम में डबल बेड विथ साइड टेबल एंड बैकबोर्ड, टीवी यूनिट, स्टडी टेबल विथ चेयर, 02 सोफा विथ सेन्टर टेबल, स्टोरेज यूनिट एंड लगेज रैक, सोफा सेट विथ सेन्टर टेबल, डाईनिंग टेबल विथ 04 चेयर, लगेज रैक का निर्माण कराया जाना है। इस जगह पर 2 डोरमेट्री का भी निर्माण कराया जाना है, जिसमें 12 बेड के दो डोरमेट्री और 08 बेड के दो डोरमेट्री शामिल हैं।