Homeबिहारबिहार के इस नदी पर बनेगा फोरलेन पुल, जानिए किन जिलों को...

बिहार के इस नदी पर बनेगा फोरलेन पुल, जानिए किन जिलों को होगा फ़ायदा

बिहार में इस्ट-वेस्ट कॉरिडोर का राज्य में महत्वपूर्ण हिस्सा गोपालगंज जिले में एनएच-28 पर गंडक नदी में फोरलेन पुल का निर्माण अगले साल शुरू हो जायेगा. इसके लिए एनएचएआइ ने टेंडर जारी कर दिया है और निर्माण एजेंसी का चयन जनवरी 2022 में पूरा हो जायेगा. इसके तहत करीब 165.76 करोड़ रुपये की लागत से पुराने दो लेन डुमरिया पुल की मरम्मत की जायेगी. साथ ही बगल में बन रहे दो लेन नये पुल के बचे काम को पूरा किया जायेगा.

फोरलेन पुल आम लोगों के आवागमन के लिए 2026 में उपलब्ध हो सकेगा. फिलहाल दो लेन डुमरिया पुल की हालत जर्जर है. हाल ही में सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने नये फोरलेन पुल को बनाने के लिए जल्द प्रक्रिया शुरू करने का निर्देश दिया था. इस पुल से जुड़े एनएच-28 की चौड़ाई अब फोरलेन हो चुकी है, लेकिन पुल की चौड़ाई दो लेन ही रहने से आवागमन में असुविधा है. इसके लिए दो लेन पुल की अतिरिक्त चौड़ाई बढ़ाने का निर्णय हुआ था, लेकिन 2011 से यह अटका हुआ था. ऐसे में पुल पर प्रतिदिन जाम लगना और दुर्घटना आम बात हो गयी थी.

सूत्रों के अनुसार गंडक नदी पर पुराने डुमरिया पुल का निर्माण 1974 में हुआ था. दिल्ली से गुवाहाटी को जोड़ने वाले इस पुल के जर्जर होने से कभी भी गिरने का खतरा बना हुआ है. इस्ट- वेस्ट कॉरिडोर परियोजना के अंतर्गत गंडक नदी से गुजरने वाली एनएच-28 के लिए नये पुल का निर्माण वर्ष 2008 में शुरू हुआ था. वर्ष 2011 में निर्माणाधीन पुल का एक पाया अचानक धंस गया. उसके बाद निर्माण कंपनी पीसीएल काम छोड़ कर फरार हो गयी. तब से यह काम लटका हुआ है. पुल के अधूरे निर्माण को लेकर एनएचएआइ अब तक चार बार टेंडर निकाल चुकी है, लेकिन कोई ठेकेदार नियमावली पर खरा नहीं उतरा. अब एनएचएआइ की ओर से पांचवी बार टेंडर निकाला गया है.

पथ निर्माण मंत्री नितिन नवीन ने कहा कि इस डुमरिया पुल को बनाने के लिए उन्होंने केंद्र सरकार से कई स्तर पर बातचीत शुरू की थी. केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी से मुलाकात कर उनके समक्ष निवेदन किया था. मंत्री नितिन नवीन ने डुमरिया पुल के निर्माण प्रक्रिया को मंजूरी देने के लिए केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी के प्रति आभार जताया है.

Note: तस्वीर काल्पनिक है।

Most Popular