बिहार के इन 9 जिलों से होकर गुज़र सकता है राज्य का दूसरा एक्सप्रेस-वे

अब तक बिहार में एक भी एक्सप्रेसवे नहीं है। वहीं दूसरी ओर पड़ोसी राज्य उत्तर प्रदेश में 3-3 एक्सप्रेसवे बन चुके हैं। लेकिन जल्द ही बिहार को दो एक्सप्रेस वे की सौगात मिलने जा रही है। पटना से कोलकाता एक्सप्रेस वे के बाद अब रक्सौल से हल्दिया तक राज्य का दूसरा एक्सप्रेसवे बनेगा। 6 से 8 लेने वाले इस दूसरे एक्सप्रेस-वे का निर्माण अगले साल से शुरू होगा।

695 किलोमीटर लंबा होगा एक्सप्रेसवे।

बता दें कि रक्सौल हल्दिया एक्सप्रेस वे करीब 695 किलोमीटर लंबा होगा जिसके निर्माण पर 54 हजार रूपए खर्च होंगे। इसके निर्माण को पूरा करने की समय सीमा वर्ष 2024 25 है। फिलहाल इस एक्सप्रेस वे की डीपीआर की प्रक्रिया शुरू होने वाली है। मालूम हो कि पटना से कोलकाता तक राज्य का पहला एक्सप्रेसवे बनेगा।

इन जिलों से होकर गुजरेगा एक्सप्रेस-वे।

  • जानकारी के अनुसार यह एक्सप्रेस पर पूरी तरह ग्रीन फील्ड होगा और इसमें बीच में नहीं चढ़ा जा सकेगा।
  • राज्य के करीब 9 जिलों से होकर गुजरेगी। इनमे पश्चिमी चंपारण, पूर्वी चंपारण, मुजफ्फरपुर ,सारण, पटना, बिहार शरीफ, शेखपुरा जमुई और बांका शामिल है।
  • आधे एक्सप्रेसवे झारखंड में प्रवेश कर जाएगा। झारखंड में यह एक्सप्रेसवे सरैयाहाट, नोनीहाट व दुमका से पश्चिम बंगाल के पानागढ़ से हल्दिया पोर्ट तक जाएगा