बिहार के इन शहरों से नेपाल आप जा सकेगें बस से, जानिए कब से शुरू हो रही है

छठ पूजा के आसपास पटना से नेपाल जाने के लिए बस सेवा शुरू कर दी जाएगी। इस रोड पर यात्रा करने वाले यात्रियों के लिए यह एक राहत भरी खबर है। इससे न सिर्फ नेपाल बल्कि उत्तर बिहार के जिलों में जाने वाले यात्रियों को भी फायदा होगा। मार्च, 2020 से बंद चल रही भारत-नेपाल बस सेवा फिर से बहाल होने जा रही है। पटना से जनकपुर धाम आने और जाने वाले यात्रियों को सबसे ज्यादा लाभ मिलेगा। क्योंकि जनकपुर स्थित सीता मंदिर के दर्शन के लिए पटना ही नहीं आसपास के कई जिलों से यात्री बस पकडऩे के लिए पटना आते हैं।

गया से भी नेपाल के लिए चलेंगी बसें।

बिहार राज्य पथ परिवहन निगम के अधिकारियों ने बताया कि पटना से जनकपुर धाम और पटना से काठमांडू इसके अलावा गया से काठमांडू और गया से जनकपुर धाम के लिए दो-दो बसों का संचालन 10 नवंबर तक शुरू हो जाएगा। इसके लिए पूरी तैयारी कर ली गई है। बस किराया में कोई बदलाव नहीं किया गया है। जनकपुर धाम के लिए वाया मुजफ्फरपुर होते हुए बस का संचालन किया जाएगा।

इन शहरों से होकर गुजरेगी बसें।

विभाग के अधिकारियों ने बताया कि भारत नेपाल बस सेवा का परिचालन गांधी मैदान के पास में स्थित बांकीपुर बस स्टैंड से दोनो बसों का परिचालन किया जाएगा। काठमांडू जाने वाले बस में स्लीपर सीट भी होगी। नेपाल सीमा पर पहुंचते ही यात्रियों से कस्टम और एसएसबी कागजात चेक करेंगे। तकरीब 18 महिने के बाद भारत नेपाल बस सेवा शुरू होने से दोनो देशों के यात्रियों को लाभ मिलेगा। बांकीपुर बस स्टैंड में सवार होने वाले यात्री करीब 200 किमी भारत और 200 किमी नेपाल में यात्रा करेंगे। बस का मार्ग हाजीपुर, मुजफ्फरपुर, मोतिहारी , रक्सौल होते हुए काठमांडू तक होगा।

Note : तस्वीर काल्पनिक है।