Homeबिहारबिहार के इन दो रेल परियोजनाओं का निर्माण जल्द शुरू होगा, जमीन...

बिहार के इन दो रेल परियोजनाओं का निर्माण जल्द शुरू होगा, जमीन अधिग्रहण का कार्य हो गया पूरा..

पिछले 8 वर्षों के कार्यकाल में रेलवे ने 309 किलोमीटर नई रेल लाइन बिछाई है। हालांकि नई रेलवे परियोजना में भूमि अधिग्रहण सबसे बड़ी समस्या है। कई जगह जमीन अधिग्रहण का विवाद चल रहा है। कई जगह किसान अपनी जमीन देने को तैयार नहीं हैं। राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग के साथ बैठक में भूमि से जुड़े सभी हितधारकों से बात करने को कहा गया है. शनिवार को हुई बैठक में राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग के अलावा रेलवे अधिकारियों के अधिकारी एनएच, एनएचएआई और सशस्त्र सीमा बल भी मौजूद थे।

इस जगहों में जमीन अधिग्रहण का काम चल रहा है बता दें कि भूमि अधिग्रहण के कारण कई परियोजनाएं लंबित हैं या उनमें देरी हो रही है।नेउरा-दनियावा-बिहारशरीफ-शेखपुरा में कुछ जमीन की समस्या है। चामुचक मंझौली पुनपुन थाने में 15 एकड़ भूमि विवाद अधिग्रहण की समस्या का समाधान किया गया है। इसमें से 20 करोड़ 7 करोड़ रुपये का भुगतान किया जा चुका है। पटना के जिलाधिकारी को जमीन पर रेलवे से हस्तक्षेप कराने की जिम्मेदारी दी गई है। वर्तमान में फुलवारीशरीफ प्रखंड कुरीजी व आलमपुर गोनपुरा में भूमि अधिग्रहण का काम चल रहा है।

पश्चिम चंपारण में दो चरणों में 718 एकड़ भूमि का निर्माण किया जाएगा                                     इस परियोजना के लिए पूर्व, पश्चिम चंपारण और वैशाली जिले में भूमि अधिग्रहण का कार्य पूरा कर लिया गया है। जमीन अधिग्रहण की प्रक्रिया पहले ही पूरी हो चुकी है। इस परियोजना में पश्चिम चंपारण में दो चरणों में 718 एकड़ भूमि का निर्माण किया जाएगा। 227 एकड़ जमीन पर रेलवे का कब्जा है। 80 प्रतिशत मुआवजे का भुगतान सफलतापूर्वक कर दिया गया है।

Most Popular