बिहार के इन ट्रेनों में रेलवे शुरू करने जा रही ये खास सुविधा, देखिये ट्रेनों के लिस्ट

रेल यात्रियों के लिए राहत भरी खबर है। कोरोना संक्रमण के कम होते ही ट्रेनों में पहले की तरह सुविधाएं उपलब्ध करने की कवायद तेज हो गई है। इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कारपोरेशन (आइआरसीटीसी) दिसंबर के पहले सप्ताह से 13 ट्रेनों में पैंट्रीकार की सुविधा बहाल करने जा रही है। आइआरसीटीसी के क्षेत्रीय प्रबंधक राजेश कुमार ने बताया कि संपूर्ण क्रांति, श्रमजीवी, हावड़ा जनशताब्दी, अर्चना, पटना-कुर्ला, स्वतंत्रता सेनानी एक्सप्रेस, सप्तक्रांति, महाबोधि एक्सप्रेस समेत 13 जोड़ी ट्रेनों में पैंट्रीकार की व्यवस्था अगले माह के पहले सप्ताह में शुरू कर दी जाएगी।

जिन ट्रेनों में पहले से पैंट्रीकार उन्हीं में सुविधा

आइआरसीटीसी इसकी तैयारी में जुट गई है। दिसंबर के अंत तक उन सभी ट्रेनों में पैंट्रीकार की सुविधा बहाल कर दी जाएगी, जिसमें पहले थी। हालांकि, यात्रियों को रेडी टू ईट का विकल्प मौजूद रहेगा। यात्री पैंट्रीकार का भोजन नहीं लेना चाहते हैं तो निबंधित संस्थानों से आनलाइन मंगवा सकते हैं। बता दें कि वीआइपी ट्रेनों में से एक तेजस राजधानी में भी अब दोबारा खाने की सुविधा शुरू की जा रही है।

पूमरे में एक दिन में सर्वाधिक 15 हजार बेटिकट यात्री धराए

पूर्व मध्य रेल क्षेत्र के सभी पांचों मंडलों में एक साथ टिकट जांच अभियान चलाया गया। मंगलवार को सर्वाधिक बगैर टिकट यात्रा करते 15 हजार लोग पकड़े गए, जिनसे 91 लाख रुपये जुर्माना वसूला गया। पूर्व मध्य रेल के मुख्य जन संपर्क अधिकारी राजेश कुमार ने बताया कि महाप्रबंधक अनुपम शर्मा के निर्देश पर पूरे जोन में एक साथ अभियान चलाया जा रहा है। इसका सार्थक परिणाम भी देखने को मिला। एक से 23 नवंबर तक पूरे जोन में 2.28 लाख बेटिकट यात्री पकड़े गए। इनसे 12 करोड़ 97 लाख रुपये बतौर जुर्माना वसूला गया। पिछले माह में इसी अवधि में 1.88 लाख बगैर टिकट यात्रियों को पकड़ा गया था, जिनसे 10.61 करोड़ जुर्माना वसूला गया था।