Homeबिहारबिहार के इन जगहों का रोप-वे पर्यटकों को आर्कषित करेगा, जानिए कहा...

बिहार के इन जगहों का रोप-वे पर्यटकों को आर्कषित करेगा, जानिए कहा हो रहा है इसका निर्माण

बिहार के पर्यटन के क्षेत्र में विकसित करने के लिए सरकार का हर संभव प्रयास कर रही है । बीते दिनों राज्य सरकार की ओर से घोषणा की गई थी कि वाल्मीकि नगर टाइगर रिजर्व की तरह एक और वीटीआर के तर्ज पर कैमूर अभ्यारण में भी टाइगर रिज़र्व का निर्माण किया जाएगा।

बिहार के इस छह जगहों में लगेगा रोप-वे
साथ ही साथ राज्य सरकार प्रदेश में सौंदर्यीकरण पर भी अधिक जोर दे रही है। जिसके लिए पूरे बिहार भर में छह रोप वे का निर्माण किया जाएगा। जिसमें रोप-वे गया के प्रेतशिला पर्वत, डुंगेश्वरी पर्वत और ब्रह्मयोनी पर्वत के साथ जहानाबाद का वाणावर पर्वत, कैमूर का मुंडेश्वरी पर्वत और रोहतासगढ़ किला शामिल हैं। हाल केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा था कि उनके पास योजना में खर्च करने के लिए पैसे हैं। राज्य सरकार अगर निर्माण का प्रस्ताव देती है तो उस पर काम करेंगे। इसके अलावा गया के डुंगेश्वरी पर्वत पर भगवान बुद्ध और फल्गू नदी में भगवान विष्णु की विशालकाय मूर्ति लगाई जाएगी।

रामायण, बौद्ध व सूफी सर्किट के विकास के लिए प्रस्ताव भेजा गया है.                              जानकारी के अनुसार रामायण, बौद्ध व सूफी सर्किट के विकास के साथ विभिन्न योजनाओं की स्वीकृति के लिए केंद्र सरकार को पर्यटन विभाग ने प्रस्ताव भेजा है। इसमें रामायण सर्किट के विकास पर 67.33 करोड़, बौद्ध सर्किट पर 101.41 करोड़ और सूफी सर्किट पर 97.12 करोड़ रुपये खर्च करने का प्रस्ताव है।

Most Popular