Homeबिहारप्रदेश में मानसून का असर कमजोर, तेज बारिश होने की संभावना बेहद...

प्रदेश में मानसून का असर कमजोर, तेज बारिश होने की संभावना बेहद कम, जानिये क्या कहते है मौसम विभाग के वैज्ञानिक …

बिहार में बीते दिनों बारिश का रिकॉर्ड अच्छा रहा इसके साथ ही तपती गर्मी से भी आमलोगों को राहत दी थी। उस बारिश में किसानों के लिए खेती के लिए बारिश अनुकुल रहा , लेकिन शुक्रवार को मौसम विभाग के द्वारा मौसम से सम्भंधित अनुमान लगाया , जिसमे उनका कहना है कि बिहार में फिलहाल अच्‍छी बारिश होने की संभावना न के बराबर है. इससे खेती-किसानी से जुड़ी गतिविधियों पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ने की आशंका फिर से गहरा गई है। सूखे के हालात भी पैदा हो सकते हैं. तो वहीँ दूसरी तरफ, औसत सामान्‍य तापमान में भी वृद्धि होने की संभावना है। ऐसे में लोगों को उमस भरी गर्मी का सामना भी करना पड़ सकता है।

बता दें कि दक्षिण बिहार के कई जिलों में सूखे जैसे हालात पैदा हो गए हैं। खासकर नवादा, नालंदा, शेखपुरा, औरंगाबाद, रोहतास समेत दक्षिण बिहार के अन्‍य हिस्‍सों में सूखे के हालात पैदा होते दिखाई पड़ने लगे हैं। मौसम विज्ञानियों के ताजा पूर्वानुमान की मानें तो प्रदेश में अब छिटपुट बारिश ही होगी। मूसलाधार बारिश या सामान्‍य तौर पर तेज बारिश होने की संभावना बेहद कम है।

प्रदेश में अब बारिश की संभावना बेहद कम है। ऐसे में खेती-किसानी का काम प्रभावित होने की आशंका बढ़ गई है. फिलहाल बिहार में सामान्‍य से 32 फीसदी कम बारिश रिकॉर्ड की गई है। यदि आने वाले समय में अच्‍छी बारिश नहीं हुई और दक्षिण-पश्चिम मानसून कमजोर पड़ता गया तो हालात और भी खराब हो सकते हैं। खासकर धान की फसल के प्रभावित होने की आशंका बढ़ जाएगी।

Most Popular