पटना जंक्शन पे यात्रियों के सुविधा के लिए बनेगा सब-वे(अंडरग्राउंड रास्ता), जानिए इसकी ख़ासियत

पटना जंक्शन पहुंचने में यात्रियों को परेशानी नहीं हो, इसके लिए जीपीओ समीप बकरी बाजार से पटना जंक्शन (पहले दूध मार्केट) तक सब-वे (अंडरग्राउंड रास्ता) का निर्माण होना है. 410 मीटर लंबे सब-वे निर्माण की प्रक्रिया अगले माह अगस्त से शुरू हाेगी. बिहार राज्य पुल निर्माण निगम की ओर से इसके लिए टेंडर निकाला जायेगा.

सब-वे के निर्माण पर लगभग 62 करोड़ खर्च होंगे. पुल निर्माण निगम के विश्वस्त सूत्रों ने बताया कि जीपीओ के समीप खाली जमीन बकरी मार्केट से पटना जंक्शन तक सब-वे का निर्माण स्मार्ट सिटी परियोजना के तहत होना है. सब-वे निर्माण के लिए नगर विकास व आवास विभाग से सहमति मिली है. अब निर्माण को लेकर प्रक्रिया शुरू होगी.

आठ मीटर होगी गहराई

बकरी बाजार से पटना जंक्शन तक सब-वे (अंडरग्राउंड रास्ता) के निर्माण के लिए आठ मीटर नीचे खुदाई होगी. बकरी बाजार से महावीर मंदिर के बगल से होते हुए पटना जंक्शन (पहले दूध मार्केट) तक रास्ता निकाला जायेगा.

सड़क के नीचे पैदल यात्रियों के चलने की व्यवस्था रहेगी. इसके अलावा ट्रैवलेटर भी लगाये जायेंगे. जिस पर केवल लोग खड़े होकर आगे निकल जायेंगे. बीच-बीच में ट्रैवलेटर से लोग उतर कर पैदल भी चलेंगे.

बनेगा मल्टी मॉडल ट्रांसपाेर्ट हब

स्मार्ट सिटी पटना के तहत रिडेवलपमेंट ऑफ पटना जंक्शन रेलवे स्टेशन योजना के तहत बकरी बाजार में 261 करोड़ की लागत से पांच मंजिला मल्टी मॉडल ट्रांसपाेर्ट हब बनना है.

पथ निर्माण मंत्री के नितिन नवीन सब-वे के निर्माण से ट्रेन पकड़ने वाले यात्रियों को सुविधा मिलेगी. बिना किसी बाधा के पटना जंक्शन पहुंचना आसान होगा. इसके निर्माण की प्रक्रिया शीघ्र शुरू होगी. पुल निर्माण निगम की ओर से इसका निर्माण होना है.

रेलयात्रियों को सुविधा

यहां से रेलयात्रियों को बिना किसी बाधा के स्टेशन तक पहुंचने के लिए सब-वे का निर्माण होगा. इससे यात्रियों को अपना सामान लेकर स्टेशन तक पहुंचने में अधिक परेशानी नहीं हाेगी. पटना जंक्शन के पास ऑटो व सिटी बस का भी पड़ाव होने, फुटपाथी दुकानदार के जमे रहने से जाम की समस्या रहती है. स्टेशन पर ट्रेन पकड़ने आने व बाहर निकलने वाले लोगों को काफी परेशानी होती है. महावीर मंदिर के पास गोलंबर के चारों तरफ हमेशा जाम लगा रहता है.