दुर्गापूजा में कैसा रहेगा मौसम का मिजाज़, बारिश होगी कि नहीं जानिए

सितंबर के अंदर में कई दिनों तक भारी बारिश हुई। इससे जानमाल की हानि हुई। अक्टूबर के पहले सप्ताह में भी धनबाद समेत आस-पास के इलाकों में 99 फीसद ज्यादा बारिश हो चुकी है। ऐसे में बड़ा सवाल यह है कि नवरात्र और दुर्गा पजा-2021 के दाैरान माैसम कैसा रहेगा ? 7 अक्टूबर से नवरात्र शुरू हो रहा है और 15 को विजय दशमी है। मौसम विभाग की मानें तो दुर्गा पूजा में बारिश की संभावना कम है। इंद्र देवता शांत रहेंगे। हालांकि लाैटते बादल बूंदाबांदी करा सकते हैं। आसमान से फुहारें भी गिर सकती हैं। दूसरी तरफ मंगलवार को दिनभर धूप छांव की आंख मिचौनी जारी रही। कभी आसमान में बादल छाए तो कभी धूप खिली रही। बुधवार को भी बादलों की आवाजाही बने रहने की संभावना है।

साइक्लोनिक सर्कुलेशन का प्रभाव झारखंड पर नहीं

माैसम विभाग की माने तो लौटते मानसून के बादल बीच-बीच में बारिश करा सकते हैं। अभी हिमालय के पश्चिम बंगाल और आसपास के हिस्से में साइक्लोनिक सरकुलेशन बना हुआ है। उस साइक्लोनिक सरकुलेशन का प्रभाव झारखंड पर नहीं है। पर उससे छिटक कर बादलों के इस ओर आने से धूप छांव जैसी स्थिति बन रही है। अगले 24 घंटे में उत्तर पूर्व के कई हिस्सों से मानसून के बादलों की वापसी की अनुकूल परिस्थिति बन रही है। इन्हीं बादलों की आवाजाही के दौरान बारिश की संभावना जताई जा रही है। हालांकि भारी बारिश होने या लगातार बारिश जारी रहने जैसी संभावना नहीं बनेगी। बारिश नहीं होने की वजह से गर्मी भी तेवर दिखाने लगी है। दिन में उमस भी बढ़ रहा है। अधिकतम तापमान 34 से 35 डिग्री के आसपास है। अगले कई दिनों तक अधिकतम तापमान में किसी बड़े बदलाव की संभावना नहीं है।

मौसम साफ होने से त्यौहार के बाजार में रौनक

बुधवार को महालया है और गुरुवार को से नवरात्र की शुरुआत हो रही है। नवरात्र को लेकर बाजारों में खरीदारों की भीड़ बढ़ गई है। मौसम साफ होने की वजह से जमकर खरीदारी भी हो रही है।