दादा का सपना किया पूरा। समस्तीपुर के सत्यम ने यूपीएससी में पाई 10 वीं रैंक

यूनियन पब्लिक सर्विस कमीशन( यूपीएससी) द्वारा 24 सितंबर को सिविल सेवा परीक्षा 2020 के परिणाम जारी कर दिया गया। इसमें बिहार के अभ्यर्थियों ने पूरे देश में अपना परचम लहरा दिया। पूरे देश में पहली रैंक कटिहार के शुभम कुमार की आई। उसी तरह समस्तीपुर जिले के सत्यम गांधी दसवें स्थान पर रहे। परिणाम के बारे में खबर सुनते ही उनके पैतृक गांव पूसा के दिघड़ा में जश्न का माहौल है। सत्यम को बधाई देने वालों का तांता लगा हुआ है।

दादा जी का सपना किया पूरा।

सत्यम के दादाजी सच्चिदानंद शर्मा अपने बेटे यानी सत्यम के पिता अखिलेश शर्मा को आईएएस अफसर बनाना चाहते थे। उनके बेटे तो यह सपना पूरा नहीं कर पाए लेकिन उनके पोते ने यह कर दिखाया। सत्यम की इस सफलता से पूरा परिवार फूला नहीं समा रहा। घर में जश्न का माहौल है।

राजनीति शास्त्र से किया ग्रेजुएशन।

बता दें कि सत्यम ने केंद्रीय विद्यालय पूसा से अपनी 12वीं की पढ़ाई पूरी की। उसके बाद उन्होंने दिल्ली के दयाल सिंह कॉलेज से राजनीति शास्त्र में इसी वर्ष अपना ग्रेजुएशन पूरा किया है। उन्होंने काफी कम उम्र में सफलता हासिल की है। उन्होंने अंग्रेजी माध्यम से परीक्षा दी थी। दिल्ली में ग्रेजुएशन की पढ़ाई के दौरान ही हुआ यूपीएससी सिविल सर्विसेज परीक्षा की तैयारी कर रहे थे।