तेल और सब्जियों के बाद अब ब्रेड, पाव भी हुआ महंगा, बिहार वासियों की जेब होगी ढीली

लोगों पर चौतरफा महंगाई की मार पड़ रही है। पहले पेट्रोल डीजल के दामों ने जनता को रुलाया। तो उसके बाद सरसों तेल और सब्जियों ने भी कोई कसर नहीं छोड़ी। अब प्रदेशवासियों का सुबह का ब्रेकफास्ट भी महंगा होने जा रहा है। क्योंकि बेकरी एसोसिएशन ऑफ बिहार (बीएओबी) की बैठक में नई दरों को 31 अक्टूबर से पूरे बिहार में लागू करने का निर्णय लिया गया है।

बैठक में लिया गया निर्णय।

वैशाली ब्रेड के ऋषिकेश कुमार ने कहा कि पिछली बैठक में कई लोग मौजूद नहीं थे। इसके अलावा 24 अक्टूबर से बढ़ाई जाने वाली कीमतों के लिए तकनीकी परेशानियां भी ब्रेड उत्पादक कंपनियों को हो रही थी। नई कीमत वाले पैकिंग रैपर के अलावा रिटेलरों के पास सूचना पहुंचाने के लिए भी बहुत कम समय मिला था। इसे देखते हुए नई कीमतों को लागू करने की तिथि को आगे बढ़ाने का निर्णय लेना पड़ा है। एसोसिएशन अध्यक्ष एनके अग्रवाल ने कहा कि शुक्रवार को हुई बैठक में वे शामिल नहीं हो सके हैं। बैठक में जो भी निर्णय लिया गया है वह सभी के लिए मान्य है।

बिहार में ब्रेड की कीमतों में 2 से 5 रुपये के बीच इजाफा किया गया है। सुपर फ्रेश ब्रेड के कंपनी हेड केके सिंह ने कहा कि बिहार में ब्रेड की कीमतों को बढ़ाने के पहले यूपी, बंगाल और झारखंड में ब्रेड की कीमतों को भी देखना पड़ता है।

पेट्रोल डीजल के बाद सब्जियां भी रुला रहीं।

इस महीने में लगभग 18 बार पेट्रोल डीजल के दाम बढ़ चुके हैं। राजधानी पटना में 1 लीटर पैट्रोल 110.84 रुपए लीटर और डीजल 102.57 रुपए प्रति लीटर है।

वही हरी सब्जियों की बात करें तो, लौकी और नेनुआ छोड़कर सारी सब्जियां 50 के पार है। इसके अलावा आलू के दाम भी लगातार बढ़ते जा रहा है।