Homeझारखंडट्रेन में सफर करना हुआ महंगा, खाने-पीने के समान में हुई इतने...

ट्रेन में सफर करना हुआ महंगा, खाने-पीने के समान में हुई इतने रुपये की वृद्धि

अगर आप ट्रेन से सफर करते हैं तो यह खबर आपके लिए महत्वपूर्ण हैं। भारतीय रेलवे में कई बदलाव हुआ है, जिसकी जानकारी आपको होनी चाहिए। अन्यथा कभी आप परेशानी में भी पड़ सकते हैं। बढ़ती महंगाई को देखते हुए आईआरसीटीसी ने भी अपनी रेट बढ़ा दी है। इससे यात्रियों को झटका लगा है। हालांकि, रेलवे बोर्ड ने दो साल पूर्व ही आईआरसीटीसी को यह सिफारिश लागू करने का निर्देश दिया था लेकिन कोरोना की वजह से इसे टाल दिया गया।

चूंकि अब ट्रेनों की परिचालन शुरू हो गई है। इसे देखते हुए ट्रेन में मिलने वाली खान-पान की चीजों के दाम बढ़ गए हैं। इसके अलावा पटना से दिल्ली या पटना से लखनऊ जैसी कोई भी यात्रा एक जगह से दूसरे जगह कर रहे हैं तो आपके लिए राजधानी, शताब्दी और दुरंतो जैसी वीआइपी ट्रेनों की प्रीपेड वाली कैटरिंग सेवा का शुल्क भी महंगा हो गया है। इससे यात्रियों को डबल झटका लगा है। लोगों का कहना है कि महंगाई लगातार बढ़ रही है। इसके लिए सरकार को ठोस कदम उठाने की जरूरत है।

आइआरसीटीसी की मांग को मंजूरी

रेलवे बोर्ड द्वारा कैटरिंग शुल्क तय करने का अधिकार 21 फरवरी 2019 को दिया गया था। इसी के अंतर्गत मेन्यू व टैरिफ कमेटी का गठन किया गया था, जो निर्णय करती है। इसके बाद ही आगे की कार्रवाई होती है। आइआरसीटीसी की मांग पर रेलवे बोर्ड ने 14 नवंबर 2019 को नई कीमत लागू करने का आदेश दिया था। जिसको मार्च 2020 से लागू करना था। लेकिन कोरोना की वजह से देश में लॉकडाउन लग गया और इसे लागू नहीं किया जा सका। अब एक दिसंबर से रेलवे ने शताब्दी सहित कई अन्य ट्रेनों में इसे शुरू कर दिया है।

ये है नई दर

अगर आपको नई दर के बारे में जानकारी नहीं है तो चलिए हम आपको बताते हैं। अब राजधानी, शताब्दी और दुरंतों की चेयरकार, एसी 3 व एसी 2 में सुबह की चाय 20 रुपये, नाश्ता 120 व लंच या डिनर 185 रुपये में मिलेगा। वहीं, शाम की चाय 90 रुपये हो गई है। वहीं, राजधानी, शताब्दी और दुरंतो के एग्जीक्यूटिव व एसी 1 में सुबह की चाय 35 रुपए, नाश्ता 140 रुपए, लंच या डिनर 245 रुपए व शाम की चाय 140 रुपए हो गई है।

Most Popular