Homeझारखंडझारखण्ड वासियों कड़ाके की ठंड के लिए हो जाइये तैयार, कुछ दिनों...

झारखण्ड वासियों कड़ाके की ठंड के लिए हो जाइये तैयार, कुछ दिनों में इतने डिग्री तक गिरेगा तापमान

रांची समेत पूरे राज्य में कनकनी बढ़ गई है। पिछले 24 घंटे में राजधानी रांची का न्यूनतम तापमान 11 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। मौसम विभाग का कहना है कि तापमान में और गिरावट होगी। तापमान 10 डिग्री सेल्सियस से नीचे जा सकता है। वहीं कांके केवीके का तापमान 9.6 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। वहीं मैक्लुस्कीगंज का न्यूनतम तापमान 10.5 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया।

यहां न्यूनतम तापमान रहा सबसे कम:

मौसम विज्ञानी अभिषेक आनंद ने बताया कि पश्चिम से आ रही ठंडी हवाओं के कारण रांची सहित पूरे राज्य में ठंड बढ़ी है। पूरे राज्य में रांची जिला का कांके और गोड्डा जिला का न्यूनतम तापमान सबसे कम रहा। वहां का तापमान 9.6 डिग्री सेल्सियस रहा। अधिकतम तापमान में भी कमी देखी जा रही है। पिछले 24 घंटे में रांची का अधिकतम तापमान 23.6 डिग्री सेल्सियस रहा जो कि सामान्य से 0.8 डिग्री सेल्सियस कम है।

सुबह में छा रहा कोहरा व धुंध :

इधर, पूरे राज्य में मौसम शुष्क रह रहा है। सुबह में कोहरा और धुंध रहने से विजिबिलटी कम रह रही है। मौसम विभाग का कहना है कि आने वाले दिनों में कोहरा और धुंध और घना होगा।

बर्फबारी और बारिश से बढ़ी कनकनी:

मौसम व‍िज्ञानी अभ‍िषेक आनंद के अनुसार, पहाड़ी इलाकों में लगातार बर्फबारी और बारिश से यह कनकनी बढ़ी है। जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड में पश्चिमी विक्षोभ के कारण बर्फबारी हुई है। इन इलाकों में कई जगहों पर तापमान 0 डिग्री सेल्सियस से नीचे चला गया है। पश्चिम से आ रही हवाएं उत्तर और पूर्व दिशा की ओर बह रही हैं। इन्ही हवाओं से उत्तर भारत में कड़ाके की ठंड शुरू हो गई है। इसका असर झारखंड पर भी देखने को मिल रहा है।

तीन चार द‍िनों में और ग‍िरेगा तापमान:

मौसम व‍िज्ञानी अभिषेक आनंद ने बताया कि वर्ष 2000 से पहले पश्चिमी विक्षोभ का असर कम होता था, लेकिन जलवायु परिवर्तन के कारण अब झारखंड में भी पश्चिमी विक्षोभ का असर दिखने लगा है। अगले तीन से चार दिनों में तापमान में तीन से चार डिग्री की गिरावट आएगी। हालांकि तापमान 10 डिग्री सेल्सियस से नीचे नहीं जाएगा।

Most Popular