झारखण्ड वासियों को कब मिलेगा इस बारिश वाले मैसम से राहत, जानिए अपने शहर का हाल

तेलंगाना के आसपास बने चक्रवात का असर झारखंड के करीब-करीब सभी जिलों में पड़ा. राज्य के संताल, कोल्हान और मध्य भारत के कई इलाकों में अच्छी बारिश हुई. चक्रवात के कारण ओड़िशा और आसपास के राज्यों में एक निम्न दबाव बना हुआ है. मंगलवार और बुधवार को राज्य के कई इलाकों में इसका आंशिक असर रहेगा.

राज्य में बारिश में कमी 21 अक्टूबर से देखने को मिलेगा। वहीं रविवार को राजधानी में जमकर बारिश हुई। सुबह चार घंटे के आसपास में करीब 26.6 मिमी बारिश रिकार्ड की गई। तेज बारिश के साथ करीब 18 किमी प्रतिघंटा के रफ्तार से हवा भी चली। पिछले 24 घंटे के दौरान राज्य में सबसे ज्यादा बारिश जमशेदपुर में दर्ज की गई। जबकि सबसे ज्यादा अधिकतम तापमान साहिबगंज में 37.2 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। राज्य में सबसे कम न्यूनतम तापमान राजधानी रांची का 21.6 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया।

मौसम केंद्र का पूर्वानुमान है कि 19 अक्तूबर को राज्य के उत्तरी तथा मध्य भागों में कहीं-कहीं भारी बारिश हो सकती है. गुरुवार से मौसम साफ होने की उम्मीद है. इधर, राजधानी में रविवार देर रात से शुरू हुई बारिश सोमवार को भी जारी रही. आकाश में बादल छाये रहे. इससे अधिकतम तापमान में गिरावट हुई. राजधानी का अधिकतम तापमान सोमवार को 24.2 डिग्री सेसि रहा. पिछले तीन-चार दिनों में अधिकतम तापमान में आठ डिग्री सेसि की गिरावट हुई. पिछले 24 घंटे में राजधानी में करीब 60 मिमी के आसपास बारिश हुई.