झारखण्ड में पंचायत चुनाव जल्द कराने की कवायद तेज, जानिये किस महीने में हो सकते हैं चुनाव

राज्य में पंचायत चुनाव को लेकर तैयारियां अंतिम चरण में पहुंच गई हैं। वोटर लिस्ट के बाद अब सीटों को आरक्षित करने की प्रक्रिया पूरी कर ली गई है। चुनाव चिह्न अधिसूचित किया जा चुका है। चुनाव की तारीख की घोषणा के लिये प्रस्ताव राज्यपाल को जल्द भेजा जाएगा। राज्यपाल के अनुमोदन के बाद पंचायत चुनाव की घोषणा कर दी जाएगी। पंचायत चुनाव जल्द कराया जाएगा। खासतौर पर त्यौहार, कोरोना संक्रमण को देखते हुये सही समय में चुनाव कराने का प्रस्ताव भेजा जाएगा।

जिलों में पंचायत चुनाव से संबंधित वेबसाइट शुरू करने का निर्देश

राज्य निर्वाचन आयुक्त डीके तिवारी ने सोमवार को सभी उपायुक्तों व पुलिस अधीक्षकों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से बैठक कर चुनाव की तैयारियों की जानकारी ली। इस दौरान उन्होंने कई महत्वपूर्ण निर्देश दिए। उन्होंने चुनाव संबंधित सभी कार्यों को पर्व-त्योहारों से पूर्व पूरा करने को कहा। हर जिले में पंचायत चुनाव से संबंधित वेबसाइट शुरू करने का निर्देश दिया है, ताकि महत्वपूर्ण जानकारी सुलभ हो सके।

सुरक्षा बल की तैनाती का भी खाका तैयार

राज्य निर्वाचन आयुक्त डीके तिवारी ने बताया कि हर जिले में करीब 20 बिंदुओं पर तैयारियां की जा रही हैं। उन्होंने खासकर फोटोयुक्त मतदाता सूची का काम जल्द पूरा करने को कहा। शांतिपूर्ण चुनाव को लेकर भी उन्होंने पुलिस अधीक्षकों को कई निर्देश दिये गये और शांतिपूर्ण चुनाव संपन्न कराने के लिये सुरक्षा बल की तैनाती का भी खाका तैयार किया गया। चुनाव अधिकारियों एआरओ, आरओ की प्रतिनियुक्ति जल्द पूरी की जाएगी।

दिसंबर या अगले साल जनवरी में राज्य में हो सकता है पंचायत चुनाव 

उल्लेखनीय है कि कोरोना संक्रमण के कारण राज्य में पिछले साल पंचायत चुनाव नहीं हो सका। माना जा रहा है कि राज्य में कोरोना की स्थिति यूं ही नियंत्रण में रही तो दिसंबर या अगले साल जनवरी में राज्य में पंचायत चुनाव हो सकता है।