Homeझारखंडझारखण्ड में इस दिन से स्कूलों में बनाये जाएंगे जाति प्रमाणपत्र, जानिए...

झारखण्ड में इस दिन से स्कूलों में बनाये जाएंगे जाति प्रमाणपत्र, जानिए विस्तार से

झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने मंगलवार को कहा कि झारखंड सरकार जल्द ही एक विशेष अभियान शुरू करेगी। इसके तहत सभी स्कूलों में विभिन्न ग्रेड के छात्रों को जाति प्रमाण पत्र जारी करने के लिए कैंप लगाया जाएगा। सीएम सोरेन ने मंगलवार को विधानसभा में कहा, ‘जाति प्रमाणपत्र जारी करने में आ रही दिक्कतें सरकार के संज्ञान आई हैं। 29 दिसंबर के बाद निजी और सरकारी स्कूलों के छात्रों को जाति प्रमाणपत्र जारी करने के लिए विशेष अभियान चलाया जाएगा। इससे आगे बढ़ते हुए सरकार जल्द ही जन्म के समय ही जाति प्रमाण पत्र भी जारी करना शुरू करेगी।’

सीएम सोरेन ने यह बातें पूर्व मंत्री और भाजपा विधायक नीलकंठ सिंह मुंडा द्वारा उठाए गए मुद्दे के जवाब में कहीं। बीजेपी विधायक ने कहा कि आदिवासी और पिछड़े समूहों जैसे लोहार, लोहरा और बारैक लोगों को जाति प्रमाणपत्र बनाने में समस्या का सामना करना पड़ रहा है। जबकि बांग्लादेश से आए घुसपैठिकयों का जाति प्रमाण पत्र बन जाता है।

मुंडा ने कहा, ‘यह सरकार आदिवासियों की हितैषी होने का दावा करती है। हालांकि, इन समूहों को जाति प्रमाण पत्र जारी करने में भी समस्या का सामना करना पड़ रहा है। दूसरी ओर, अल्पसंख्यक (धार्मिक) समूहों को केवल स्व-घोषित दस्तावेज प्रदान करने पर प्रमाणपत्र मिल जाता है। मुझे इस समुदाय से कोई बैर नहीं है लेकिन संभावना है कि अल्पसंख्यक की आड़ में बांग्लादेशी घुसपैठियों को भी इसका लाभ मिल सकता है।’

अपने जवाब में, मुख्यमंत्री ने धार्मिक मुद्दों को अनावश्यक रूप से उठाने के लिए बीजेपी को भी आड़े हाथ लिया। उन्होंने कहा, ‘विपक्षी पार्टी बीजेपी हमेशा शांति भंग करने की कोशिश करती है। सभी जानते हैं कि हमारी सरकार आदिवासियों, दलितों और अल्पसंख्यकों समेत राज्य के सभी नागरिकों के लिए काम कर रही है। हम भी बांग्लादेशियों या पाकिस्तानियों के लिए नहीं बल्कि झारखंड के 3.25 करोड़ लोगों के लिए काम कर रहे हैं।’

Most Popular