झारखण्ड में अगले दो दिनों तक बारिश होने की सम्भावना है, जानिए कब मिलेगा निजात

बंगाल की खाड़ी में बने निम्न दबाव का असर गुरुवार को झारखंड में काफी मजबूत दिखा। जमशेदपुर सहित राज्य के सभी जिलों में कम या अधिक बारिश हुई। धनबाद में 36 घंटे से हो रही लगातार बारिश के कारण 26 साल का रिकॉर्ड टूटा। रात आठ बजे तक यहां 377 मिमी बारिश हो चुकी थी। माैसम विभाग के अनुसार, मॉनसून की विदाई 10 अक्टूबर के बाद शुरू हो जाएगी।

इस बार दुर्गा पूजा के दाैरान हल्की और मध्यम दर्जे की बारिश के आसार हैं। वहीं पूर्वी सिंहभूम में मानसून के चाैथे माह सितंबर में 291.2 मिलीमीटर बारिश हुई है। यह सामान्य (225.3 एमएम) से 65.9 एमएम अधिक है। इसकी वजह से शहर के सभी डैम लगभग भर चुके हैं। चांडिल डैम का जलस्तर अधिक हाेने से कई बार फाटक खाेलने पड़े। सीतारामपुर डैम भी लबालब भर चुका है। डिमना लेक में 100% से अधिक पानी भर चुका है।

धनबाद मेडिकल कॉलेज की आईसीयू में भरा पानी

धनबाद के मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल में भी बारिश का पानी घुस गया है। आईसीयू, एचडीयू, सर्जरी वार्ड, बर्न वार्ड सहित अन्य विभागों में पानी घुस गया है। आईसीयू में फर्श से एक फीट ऊपर तक पानी भरा हुआ है। इस कारण डॉक्टरों और नर्सों को मरीजों की देखभाल और इलाज में परेशानी हो रही है।

इधर, पोटका में एनएच-220 का डायवर्जन टूटकर बहा

पोटका में भारी बारिश से हाता तिरिंग एनएच-220 के चौड़ीकरण के लिए नागा नदी पर हो रहे पुलिया निर्माण के दोनों डायवर्सन टूट गए। लगभग तीन फीट ऊपर से पानी बहने लगा। इससे घंटों आवागमन बाधित रहा। जलजमाव से कई घरों में पानी घुस गया।

आगे क्या… 3 से मॉनसून होगा कमजोर, पर 14 तक होती रहेगी बारिश : माैसम विभाग रांची के वैज्ञानिक डॉ. अभिषेक आनंद ने कहा कि शुक्रवार से माॅनसून कमजाेर हाेगा। लेकिन बीच-बीच में हल्की बारिश एक सप्ताह तक जारी होगी। राज्य के कई इलाकों में हल्के और मध्यम दर्जे की बारिश होती रहेगी।