झारखण्ड के कई ट्रेनों का भाड़ा 30 प्रतिशत तक घट गया है, जानिए अब किस ट्रेन का कितना है किराया

कोविड 19 काल में भारतीय रेल मंत्रालय कई ट्रेनों को स्पेशल ट्रेन के रूप में चला रही थी। इसके लिए यात्रियों को सामान्य किराए से 30 प्रतिशत अधिक किराया देना पड़ रहा था। लेकिन स्थिति सामान्य होने के बाद रेल मंत्रालय ने सभी ट्रेनों को सामान्य रूप से चलाने और किराया कम करने का निर्णय लिया है।

दक्षिण पूर्व रेलवे में 162 पैसेंजर ट्रेन होती हैं संचालित

दक्षिण पूर्व रेलवे से 90 मेल, 48 हाई स्पीड ट्रेन और 24 पैसेंजर और मेमू ट्रेनों का संचालित होता है। ये कुल 162 ट्रेनें हैं जिनके किराए में कटौती हो रही है। ऐसे में यदि आप कहीं यात्रा करने की प्लानिंग कर रहे हैं तो यह आपके लिए अच्छी खबर है क्योंकि अब आपको यात्रा करने के दौरान अतिरिक्त किराया नहीं देना होगा। साथ ही ट्रेनों में अब यात्रियों को आरक्षण, यात्रा के किराए में रियायत का भी लाभ मिलेगा।

कम होगा 30 प्रतिशत किराया

वर्तमान में सभी कोविड स्पेशल और फेस्टिवल स्पेशल के नाम से चलाए जा रहे ट्रेनों के लिए यात्रियों को 130 प्रतिशत किराया लिया जा रहा था। लेकिन नई व्यवस्था के तहत उनसे सामान्य किराया ही लिया जाएगा।

ऐसे में 02801 पुरी नई दिल्ली पुरुषोत्तम एक्सप्रेस से सफर करने वाले यात्रियों को अब टाटानगर से दिल्ली तक के सफर के लिए स्लीपर क्लास में 605 रुपये के बजाए 425 रुपये, थर्ड एसी में 1595 रुपये के बजाए 1116 रुपये, सेकेंड एसी के लिए 2280 रुपये के बजाए 1596 रुपये और फर्स्ट क्लास एसी के लिए 3865 रुपये के बजाए 2705 रुपये के लगभग देना होगा।

इन ट्रेनों के लिए इतना लगेगा किराया

हावड़ी से मुंबई जाने के लिए 02810 हावडा सीएसटी ट्रेन में स्लीपर क्लास में 780 रुपये के बजाए 546 रुपये, थर्ड एसी में 2035 रुपये के बजाए 1425 रुपये और सेकेंड एसी में 2935 रुपये के बजाए 2054 रुपये लगेगा।

इसी तरह बिहार जाने वाली ट्रेनों के लिए 13287 दुर्ग से चलकर भाया टाटानगर होते हुए राजेंद्र नगर टर्मिनल को जाने वाली ट्रेनों मे टाटानगर से पहटना के लिए अब स्लीपर में 295 रुपये, थर्ड एसी में 790 रुपये और सेकेंड एसी के 1120 रुपये लगेगा।