झारखण्ड के इन तीन शहरों में बनेगे इंटर स्टेट बस टर्मिनल, ये सारी सुविधाएं मिलेगी

राज्य के तीन शहरों से जल्दी ही देश के अन्य राज्यों तक बस परिवहन आसान हो जाएगा. रांची, जमशेदपुर और धनबाद में इंटर स्टेट बस टर्मिनल (ISBT) बनाने की तैयारी है. इसके लिए DDPR तैयार है. इसके मुताबिक लगभग 150 करोड़ का खर्च आएगा. धनबाद व जमशेदपुर में आइएसबीटी के डीडीपीआर को राज्य सरकार ने अनुमोदन दे दिया है. वहीं, रांची में नगर विकास विभाग की फिजिबिलिटी कमेटी योजना को अंतिम रूप दे रही है.

170 बसें खड़ी होने की होगी जगह

जानकारी के मुताबिक, ISBT का निर्माण PPP मोड में होगा. रांची में रिंग रोड के पास दुबलिया में 38 एकड़ भूमि पर ISBT बनेगा. यहां से रोजाना 500 से अधिक बसें चलाई जाएंगी. रिंग रोड से आइएसबीटी को एप्रोच रोड तैयार कर जोड़ा जाएगा. वहां एक साथ 170 बसें खड़ी की जा सकेंगी. 350 यात्रियों के लिए वेटिंग प्लेटफॉर्म बनेगा. चालक व सह चालक के लिए डोरमेट्री, महिला-पुरुष शौचालय, स्नानागार व फूड कोर्ट भी बनाए जाएंगे.

धनबादः 200 लोगों की क्षमता वाला प्रतीक्षा गृह बनेगा

धनबाद के गोविंदपुर में 13 एकड़ भूमि पर अंतरराज्यीय बस अड्डा का निर्माण किया जायेगा. बसों के आवागमन के लिए 20 बस-वे तैयार किया जायेगा. प्रस्तावित बस अड्डा अत्याधुनिक सुविधाओं से युक्त होगा. यहां 200 लोगों की क्षमता वाला प्रतीक्षा गृह, 16 टिकट काउंटर और 26 महिला व पुरुष शौचालय बनाये जायेंगे. बस बड्डा पर कैब, ऑटो व रिक्शा के लिए अलग से 5,135 वर्ग फीट भूमि पर पार्किंग का भी निर्माण कराया जायेगा.

जमशेदपुर स्वर्णरेखा परियोजना की जमीन पर शुरू होगा काम

यहां डिमना-पारडीह रोड में वसुंधरा अपार्टमेंट के पास 13.7 एकड़ जमीन पर आइएसबीटी का निर्माण कराया जायेगा. इसमें से 10 एकड़ जमीन आइएसबीटी निर्माण के लिए स्वर्णरेखा बहुद्देश्यीय परियोजना से नगर विकास विभाग को हस्तांतरित कर दी गयी है. प्रस्तावित बस अड्डा में टर्मिनल भवन, वर्कशॉप, रोड, ड्राइव-वे, लैंड स्केपिंग, कॉमर्शियल भवन जैसी सभी सुविधाएं होंगी. यहां 24 बस-वे बनेंगे, जहां एक साथ 96 बसों की पार्किंग हो सकेगी.

Note : तस्वीर काल्पनिक है।

Source : Zee News