होमझारखंडझारखंड में आज किन-किन जिलों में हैं बारिश के आसार, मेघ गर्जन...

झारखंड में आज किन-किन जिलों में हैं बारिश के आसार, मेघ गर्जन के साथ वज्रपात की आशंका, मौसम विभाग ने जारी किया अलर्ट

रांची न्यूज : झारखंड में पश्चिमी, मध्य एवं दक्षिण पश्चिमी भागों में आज कहीं-कहीं भारी बारिश हो सकती है. मेघ गर्जन के साथ वज्रपात की भी आशंका है. झारखंड में अगले चार से पांच दिनों के दौरान दिन के तापमान में कोई बड़ा बदलाव नहीं आयेगा. आज शुक्रवार को राज्य के लगभग सभी जिलों में बारिश के आसार हैं. 24 जून तक बारिश होने का अनुमान है. बंगाल की खाड़ी में निम्न दबाव का क्षेत्र बनने व झारखंड में मानसून के सक्रिय रहने के कारण मौसम विभाग ने अलर्ट जारी किया है.

19 जून को झारखंड के देवघर, धनबाद, दुमका, गोड्डा, जामताड़ा, पाकुड़, गिरिडीह, कोडरमा, लोहरदगा एवं पलामू के इलाकों में भारी बारिश होने की संभावना व्यक्त की गयी है. अन्य जगहों पर 21 जून तक रुक-रुक व कहीं-कहीं मेघ गर्जन के साथ बारिश होने की संभावना है. मौसम विभाग के अनुसार 24 जून तक मानसून की बारिश होती रहेगी. इस बीच झारखंड के कई जिलों में भारी बारिश हो सकती है, जबकि कई जिलों में वज्रपात की भी आशंका है. इधर, राजधानी में रुक-रुक कर बारिश होने से जनजीवन प्रभावित हो गया है.

मौसम वैज्ञानिक अभिषेक आनंद के मुताबिक पूरे राज्य में मानसून सक्रिय है. इस वर्ष सामान्य से भी अधिक बारिश हुई है. अमूमन 15 जून तक 65 से 70 मिमी वर्षा होती है, लेकिन इस वर्ष 81 से 129 मिमी से भी अधिक बारिश हो चुकी है. पिछले 24 घंटे में कोडरमा में सबसे अधिक 141.6 मिमी बारिश हुई. एक जून से 17 जून तक रांची में 210.3 मिमी बारिश हुई है. जमशेदपुर में 133.2 मिमी, डालटेनगंज में 245.9 मिमी, बोकारो में 156.2 मिमी व चाईबासा में 61.1 मिमी बारिश हुई है.

मौसम विभाग के आंकड़ों पर गौर करें तो रांची में पिछले 17 दिन में 210.3 मिमी बारिश हो चुकी है. जबकि वर्ष 2020 में रांची में पूरे जून माह में 311.1 मिमी बारिश हुई थी. वर्ष 2013 में जून माह में 360.7 मिमी बारिश हुई थी. वर्ष 2011 में 588 मिमी बारिश हुई थी. 2019 में 124 मिमी, 2018 में 110.6 मिमी, 2017 में 172.3 मिमी, 2016 में 158.2 मिमी, 2015 में 281.7 मिमी, 2014 में 175.8 मिमी बारिश हुई थी.

Most Popular