खुशखबरी! सभी व्यस्त रूट पे चलेंगी वंदेभारत एक्सप्रेस, देखिये क्या है रेलवे का प्लान

देश के सभी व्‍यस्‍त रूटों पर वर्ष 2024 तक सेमी हाईस्‍पीड ट्रेन यानी वंदेभारत एक्‍सप्रेस (Vande Bharat Express) दौड़ने लगेंगी. रेलवे मंत्रालय (Ministry of Railways) ने इसके लिए तैयार शुरू कर दी है. 2024 मार्च तक 100 से अधिक वंदेभारत एक्‍सप्रेस रेक का प्रोडक्‍शन होगा. मंत्रालय ने इन रेक को प्रोडक्‍शन प्‍लान में शामिल कर लिया है. इनमें से सबसे अधिक रेक ICF चेन्‍नई में बनाई जाएंगे.

रेलवे मंत्रालय (Ministry of Railways) पूरी तरह से एक्‍शन में आ चुका है. पैसेंजरों को बेहतर और सुविधाजनक यात्रा कराने के लिए अगले तीन वर्षों के अंदर 100 से अधिक वंदेभारत (Vande Bharat Express) का प्रोडक्‍शन किया जाएगा. मंत्रालय के अधिकारियों के अनुसार भविष्‍य में आने वाली वंदेभारत एक्‍सप्रेस देश के विभिन्‍न व्‍यस्‍त रूटों पर चलाई जाएंगी. इसके लिए मंत्रालय ने प्रोडकशन प्‍लान तैयार कर लिया है. वित्‍तीय वर्ष 2022-23 में 42 रेक (672 कोच) और वित्‍तीय वर्ष 2023-24 में 59 रेक (944) को प्‍लान मे शामिल कर लिया गया है.

वित्‍तीय वर्ष 2022-23 में जो 42 रेक का प्रोडक्‍शन होना है उसमें इंटेग्रल कोच फैक्‍ट्री (आईसीएफ) चेन्‍नई में 22, मॉडर्न कोच फैक्‍ट्री (एमसीएफ) रायबरेली और रेल फैक्‍ट्री कपूरथला (आरसीएफ) कपूरथला में 10-10 रेक बनाए जाएंगे. वहीं, वित्‍तीय वर्ष 2023-24 में आईसीएफ चेन्‍नई में 30, मॉडर्न कोच फैक्‍ट्री (एमसीएफ) रायबरेली में 15 और रेल कोच फैक्‍ट्री कपूरथला (आरसीएफ) में 14 रेक बनाए जाएंगे. इनमें दोनों वर्षों में सबसे ज्‍यादा आईसीएफ चेन्‍नई में 52 रेक बनाए जाएंगे. इस तरह दोनों वर्षों में 101 रेक यानी 1616 कोच तैयार किए जाएंगे.

105 वंदेभारत होंगी 2024 तक

मौजूदा समय दो वंदेभारत ट्रेन संचालन में हैं. दो ट्रेन आईसीएफ चेन्‍नई में इस वित्‍तीय वर्ष में तैयार हो जाएंगी. इन्‍हें वित्‍तीय वर्ष 2021-22 के प्रोडक्‍शन प्‍लान में भी शामिल कर लिया गया है. इस तरह मार्च 2024 तक देश में 105 वंदेभारत के रेक उपलब्‍ध होंगे. देश में मौजूद दो वंदेभारत ट्रेनों का संचालन दिल्‍ली से वाराणसी और दिल्‍ली से कटरा रूट पर किया जा चुका है.