खुशखबरी : बिहार के सभी शहरों से चलेंगी दूसरे राज्यों के लिए बसें, जानिए पूरी खबर

आने वाले दिनों में बिहार के सभी छोटे बड़े शहरों से दूसरे राज्यों के लिए निगम की बसें चलेंगी। इसके लिए बिहार राज्य पथ परिवहन निगम लगातार प्रयासरत है। प्रदेश के सभी शहरों से यूपी और झारखंड के अलावा अन्य राज्यों के लिए भी बसें चलेंगी। इसको लेकर परिवहन विभाग की पूरी तैयारी है।

210 रूटों के लिए आवेदन किए गए हैं आमन्त्रित।

इस क्रम में विभाग ने सबसे पहले बिहार और झारखंड के बीच 210 रूटों पर बसों का परिचालन करने का निर्णय लिया है। विभाग ने बसों के संचालन के लिए वाहन मालिकों से 22 अक्टूबर तक ऑनलाइन आवेदन मांगा है। 26 अक्टूबर तक आवेदन की हार्ड कॉपी विभाग के कार्यालय में जमा करनी है।

19 नवंबर को होगी बैठक।

परिवहन विभाग के अधिकारियों ने बताया कि 19 नवंबर को राज्य परिवहन प्राधिकार सह परिवहन आयुक्त के कार्यालय में बैठक होगी, जिसमें बसों की परमिट पर अंतिम मुहर लगेगी। इसके बाद बसों का परिचालन शुरू हो जायेगा और दिसंबर से राज्य के सभी शहरों से बिहार से झारखंड जाने वालों को सुविधा होगी। इसके बाद यूपी सहित अन्य राज्यों के लिए भी परमिट दिया जाएगा।

इन रूटों पर अभी बंद है परिचालन।

विभाग के अधिकारियों ने बताया कि अभी कई रूटों पर बसों का परिचालन बंद है। इनमे पटना-बहरागोड़ा, आरा-गिरीडीह, भभुआ-रांची, गया-बोकारो, गया-देवघर, गया-दुमका, औरंगाबाद- गिरीडीह, जहानाबाद-बोकारो, नवादा-टाटा, नवादा- हजारीबाग, हिसुआ-रांची, मुंगेर-टाटा, जमुई-टाटा, जमुई-देवघर, बेगूसराय-टाटा, बेगूसराय-बोकारो, बेगूसराय-देवघर, खगड़िया-धनबाद, छपरा-रांची, छपरा-टाटा, छपरा-बोकारो, मुजफ्फरपुर- धनबाद, सीवान-हजारीबाग, भागलपुर-रांची, भागलपुर-हजारीबाग, बांका-टाटा, दरभंगा-बोकारो, हजारीबाग-किशनगंज आदि हैं। इसके अलावा पटना- रांची के बीच 500 रूटों में 465 रूट खाली है।