क्या बंद हो जाएगा पाटलिपुत्र स्टेशन? पटना हाईकोर्ट ने की है तल्ख टिप्पणी

राजधानी पटना स्थित पाटलिपुत्र रेलवे स्टेशन बंद भी किया जा सकता है। ऐसा कहना है पटना हाई कोर्ट का।इस स्टेशन तक पहुंचने के लिए रास्ता ना होने पर हाईकोर्ट ने यह बात कही। स्टेशन तक पहुंचने वाले सड़क के निर्माण को लेकर फंसे मामले की हाईकोर्ट सुनवाई कर रहा है।

रेलवे को देना है सड़क निर्माण का खर्चा।

बता दें कि पाटलिपुत्र स्टेशन को जोड़ने वाली सड़क का निर्माण के लिए आने वाले खर्च को लेकर राज्य सरकार और रेलवे के बीच मामला फंसा हुआ है। सुनवाई के दौरान रेलवे की ओर से सड़क निर्माण में आने वाले खर्च का हिस्सा देने में आनाकानी किये जाने पर कोर्ट ने रेलवे को कहा कि जब सुविधा नहीं दे सकते तो स्टेशन बंद कर दे।

राज्य सरकार आधा पैसा देने को है तैयार।

कोर्ट ने कड़ा रुख अपनाते हुए कहा है कि रेलवे कोई चोरी नहीं कर रहा अगर रेलवे स्टेशन बनाया गया है तो उससे जुड़ी सुविधाएं विकसित करने का काम उसी का।

इस टिप्पणी पर रेलवे के वकील ने कोर्ट से कुछ वक्त मांगा है ताकि वह रेलवे के अधिकारियों को इस बारे में अवगत करा सकें। वहीं राज्य सरकार के महाधिवक्ता ललित किशोर ने कोर्ट को बताया कि, पूर्व के निर्देश अनुसार राज्य सरकार आधा खर्चा देने को तैयार है।

बता दें की सड़क के निर्माण पर कुल 100 किलो रुपए खर्च होने का अनुमान है। कोर्ट ने कहा कि रेलवे को पूरा पैसा देना चाहिए। जब रेलवे ने स्टेशन बनाया है तो वहां पहुंचने के लिए रास्ता बनाने का काम उसे ही करना चाहिए। जबकि आवेदक के वकील एस एस सुंदरम ने कोर्ट को बताया कि जो रास्ता था उस रास्ते पर रेलवे ने ट्रैक बिछा दिया है और अब रास्ता बनाने में आना कानी कर रही है।