Homeमनोरंजनकिसान की बेटी बनी थर्ड टॉपर, खुद के स्कॉलरशिप के पैसे से...

किसान की बेटी बनी थर्ड टॉपर, खुद के स्कॉलरशिप के पैसे से करनाचा हती है आगे की पढ़ाई

बिहार बोर्ड ने मैट्रिक का रिजल्ट गुरुवार दोपहर जारी कर दिया है। इस वर्ष 16 लाख छात्रों की उपस्थिति मैट्रिक की परीक्षा में थी लेकिन उस 16 लाख छात्रों में से औरंगाबाद के गोह की प्रज्ञा पूरे राज्य में तीसरा स्थान हासिल किया है। प्रज्ञा ने कुल 500 अंक में से 485 अंक प्राप्त कर औरंगाबाद जिले का नाम रौशन कर दी है।

प्रज्ञा बताती है कि वह अपने इस तीसरे स्थान से काफी खुश है साथ ही साथ इस परिणाम का श्रेय उन्होंने अपने माता पिता को दिया है। आपको बता दे कि प्रज्ञा के पिता एक किसान है तो वही उनकी माँ गृहिणी है। प्रज्ञा से बातचीत के क्रम में वह अपने शिक्षक को याद करते हुए कहीं की मेरे माता पिता के साथ साथ मेरे शिक्षक ने मेरे हौसला को बढ़ाया है।

प्रज्ञा का कहना है कि अभी तक पिता खेत में मेहनत कर पढ़ाई का किसी तरह खर्चा उठाते थे, पर अब अपने पिता की कमाई के जगह स्कॉलरशिप से पढ़ाई करना चाहती हूं। उसने कहा कि टॉपर आने के बाद सरकार मुझे जो भी ईनाम देगी उससे मैं इंटर की पढ़ाई करूंगी और आगे भी स्कॉलरशिप के लिए परीक्षा देती रहूंगी। प्रज्ञा ने कुल 485 नंबर लाकर यह सफलता हासिल की है। प्रज्ञा ने अपनी इस सफलता का श्रेय अपने माता-पिता और गुरुजनों को दिया है।

प्रज्ञा अपने भाई बहन में बीच मे आती है। प्रज्ञा मीडिया से बात करते हुए कहा है कि वो आगे आने वाले दिनों में डॉक्टर बनना चाहती है इसलिय मैट्रिक के बाद प्रज्ञा नीट की तैयार में लग जायेगी। वही उसके बाद प्रज्ञा की माँ की बात करे तो उनका कहना है प्रज्ञा उम्मीद से भी ज्यादा अंक प्राप्त किये है साथ ही साथ प्रज्ञा बचपन से ही पढ़ाई में अव्वल रही है।

Most Popular